ये कैसी अनोखी बीमारी, जिससे लड़ते-लड़ते जिंदगी की जंग हार गई 8 साल की बूढ़ी बच्ची

यूक्रेन (उत्तम हिन्दू न्यूज): अगर आपसे कोई बोले कि एक बच्ची महज 8 साल की उम्र में बूढ़ी हो चुकी है तो आप क्या कहेंगे, शायद ये झूठ है। लेकिन ये शत-प्रतिशत सच है। यहीं नहीं इस बच्ची की 8 साल की उम्र में बूढ़ी होने के बाद मृत्यु हो गई है। ये पूरा मामला सामने आया है यूक्रेन से।

8 साल की बच्ची बूढ़ी होकर मर गई...ये कैसी बीमारी?

इस बच्ची का नाम है अन्ना साकीडोन। इस प्यारी सी बच्ची की असल उम्र तो मात्र 8 साल ही थी लेकिन इसे एक ऐसी बीमारी ने जकड़ लिया जिसने इसे बूढ़ा बना दिया। इतना बूढ़ा कि इसकी उम्र पूरी हो गई। अन्ना साकीडोन इस बीमारी से मरने वाली दुनिया की सबसे युवा है।

8 साल की बच्ची बूढ़ी होकर मर गई...ये कैसी बीमारी?

अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसी कौन सी बीमारी है जिसने बच्ची को वक्त से पहले ही बूढ़ा बना दिया। इस बीमारी का नाम है प्रोजेरिया। इस गंभीर जेनेटिक बीमारी की वजह से शरीर के सभी अंग धीरे-धीरे बूढ़े होने लगते हैं। अंत में शरीर के सारे अंग काम करना बंद कर देते हैं और अंत में इंसान की इससे मृत्यु हो जाती है।

अगर आपको याद हो तो बॉलीवुड की फिल्म पा भी इसी बीमारी पर आधारित थी। उस मूवी में इस बीमार का चित्रण बखूबी किया गया था। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन ने अहम भूमिका निभाई थी, जो इस बीमारी से ग्रसित होते हैं। इस फिल्म में बाद में प्रोजेरिया बीमारी से पीड़ित बच्चे का निधन हो जाता है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि इस वकत पूरी दुनिया में कुल 160 मरीज ऐसे हैं जो प्रोजेरिया बीमारी से पीड़ित हैं। अन्ना साकीडोन की मौत भले ही 8 साल की उम्र में हुई हो, लेकिन इस बीमारी के चलते उसकी बीमारी लगभग 80 साल की हो चुकी थी। उसका वजन 7 किलोग्राम हो गया था। लास्ट में उसके सारे शरीर के अंगों ने काम करना बंद कर दिया, जिस वजह से उसकी मृत्यु हो गई।