वेलिंग्टन टेस्ट : भारत बैकफुट पर, बारिश ने धोया आखिरी सत्र का खेल

12:40 PM Feb 21, 2020 |

वेलिंग्टन (उत्तम हिन्दू न्यूज) : यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ बेसिन रिजर्व मैदान पर खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच का पहला दिन शुक्रवार भारत के लिए अच्छा नहीं रहा। दिन के शुरुआती दो सत्रों में कीवी गेंदबाजों ने भारत को परेशान किया तो दिन के तीसरे सत्र का खेल बारिश के कारण नहीं हो सका और इसी कारण भारत ने दिन का अंत पांच विकेट के नुकसान पर 122 रनों का साथ किया। उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे के जिम्मे भारतीय टीम का भार आ गया क्योंकि गेंदबाजों के मुफीद परिस्थतियों में न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने भारत के ऊपरी और मध्य क्रम को सस्ते में समेट दिया।

चायकाल की घोषणा होने तक भारत ने अपने पांच विकेट खोकर सिर्फ 122 रन बनाए थे। लेकिन इसके बाद बारिश आ गई और तीसरे सत्र का खेल नहीं हो सका और अंपायरों ने दिन का खेल खत्म करने की घोषणा कर दी। रहाणे एक छोर पर 38 रन बनाकर खड़े हैं। उनके साथ ऋषभ पंत 10 रन बनाकर टिके हैं। पहले दिन सिर्फ 55 ओवर की फेंके जा सके और इनमें कीवी टीम के लिए पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज काइस जेमिसन तीन अहम विकेट लेकर अपना प्रभाव छोड़ने में सफल रहे।

रहाणे के अलावा कोई और बल्लेबाज चल सका तो वो थे सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल। मयंक ने 84 गेंदों पर 34 रनों की पारी खेली। दिन के पहले सत्र में टिके रहने वाले मयंक दूसरे सत्र में आउट हुए। ट्रेंट बाउल्ट की गेंद को पुल करने के प्रयास में वे जेमिसन के हाथों लपके गए।

मंयक 88 के कुल स्कोर पर चौथे विकेट के रूप में आउट हुए। उनके बाद जेमिसन ने हनुमा विहारी (7) को 101 के कुल स्कोर पर पवेलियन की राह दिखाई।

इससे पहले, कीवी टीम के कप्तान केन विलियम्सन ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाया। वनडे में खराब फॉर्म से जूझ रहे पृथ्वी शॉ टेस्ट में इससे उबर नहीं पाए। मेजबान टीम के अनुभवी गेंदबाज टिम साउदी की आउटस्विंगर पर वह अपने पैर नहीं चला पाए और बोल्ड हो गए। शॉ का विकेट 16 के कुल स्कोर पर गिरा और यह पूरे रन उन्होंने ने ही बनाए।

यहां से फिर पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज जेमिसन ने टीम को दो बड़ी सफलताएं दिलाईं। उन्होंने चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली को सस्ते में आउट किया। जेमिसन ने पुजारा को 35 के कुल स्कोर पर विकेट के पीछे बीजे वाटलिंग के हाथों कैच कराया। पुजारा ने 42 गेंदों पर एक चौके की मदद से 11 रन बनाए।

जेमिसन ने ही कोहली को स्लिप पर खड़े अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे रॉस टेलर के हाथों कैच कराया। जेमिसन द्वारा ऑफ स्टम्प के बाहर दी गई आउंटस्विंग पर कोहली ने ड्राइव का प्रयास किया लेकिन गेंद बाहरी किनारा लेकर टेलर के हाथों में गई। कोहली ने सिर्फ दो रन बनाए। उनका विकेट 40 के कुल स्कोर पर गिरा।

यहां से रहाणे और मयंक ने पहले सत्र का खेल खत्म होने तक कोई और झटका नहीं लगने दिया, लेकिन मयंक दूसरे सत्र में पवेलियन लौट लिए। उन्होंने रहाणे के साथ चौथे विकेट के लिए 48 रन जोड़े।

रहाणे अभी तक अपनी पारी में 122 गेंदों का सामना कर चुके हैं और चार चौके मारे चुके हैं।

कीवी टीम के लिए जेमिसन ने तीन विकेट लिए हैं। बाउल्ट और साउदी को एक-एक सफलता मिली है।