शिवराज के खिलाफ नोटिस तैयार, जल्द ही मिलेगा : दिग्विजय

भोपाल (उत्तम हिन्दू न्यूज) : मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आज कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन पर जो आरोप लगाए है, उसके खिलाफ नोटिस तैयार हो गया है और वह उन्हें जल्द ही मिलेगा। सिंह ने यहां प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में मीडिया से चर्चा के दौरान एक प्रश्न के उत्तर में यह बात कही। उनसे पूछा गया था कि वे पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा एवं उमा भारती और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता विक्रम वर्मा को आरोप लगाने पर अदालत में ले गए, लेकिन चौहान से पुरानी दोस्ती निभा रहे हैं।

सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री उन पर देशद्रोही और नक्सली जैसे आरोप लगाते हैं। वे चुनौती देते हैं कि चौहान उन पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप लगा दें। बता दें कि उन्होंने (सिंह ने) 10 साल के कार्यकाल में कोई भ्रष्टाचार किया हो। इस सबंध में श्री सिंह ने पटवा, भारती और वर्मा के लगाए आरोपों का हवाला देते हुए कहा कि कैसे उन्हें पीछे हटना पड़ा। पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप दोहराया कि चौहान और उनके परिजन व्यायसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं), रेत के अवैध खनन समेत अन्य घोटालों में शामिल हैं। उन्होंने चुनौती देते हुए कहा कि वे पिछले कई दिनों से ये आरोप लगा रहे हैं, यदि ये गलत हैं, तो मुख्यमंत्री अदालत में चुनौती दें, हम वहां साबित करेंगे। इस सवाल पर कि वे खुद अदालत में क्यों नहीं जाते, उन्होंने कहा कि इसकी तैयारी चल रही है।

सिंह ने आरोप लगाया कि तेंदूपत्ता मजदूरों के बोनस के पैसों में भी भ्रष्टाचार किया गया है। उनके बोनस के पैसों से जूते-चप्पल, पानी की बोतल, साड़ी बांटी जा रही है। यह हक सरकार को किसने दिया। खरीदी भी बहुत ज्यादा दाम पर की जा रही है। सिंह ने चौहान को चुनौती देते हुए कहा कि वे अपने 15 साल और उनके 10 साल के शासन को लेकर बहस कर लें।

Related Stories: