पर्यटन के राष्ट्रीय मानचित्र पर होगा वाल्मीकि टाइगर रिजर्व : नीतीश

07:01 PM Nov 08, 2019 |

बगहा (उत्तम हिन्दू न्यूज): बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कहा कि नेपाल से लगे राज्य के एकमात्र टाइगर रिजर्व ‘वाल्मीकि टाइगर रिजर्व’ को पर्यटन के दृष्टिकोण से राष्ट्रीय मानचित्र पर लाने के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है।

कुमार ने यहां इको पार्क, पाथ-वे के अलावा नवनिर्मित मेडिटेशन सेंटर का उद्घाटन करने के बाद आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि वाल्मीकि नगर में कन्वेशन सेंटर बनाया जाएगा। राजगीर की तरह यहां भी कन्वेंशन सेंटर बनाने की योजना है। जल्द ही वाल्मीकि नगर में कैबिनेट की बैठक कर इसे विस्तार दिया जाएगा। अब ईको टूरिज्म का जिम्मा वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के हवाले किया गया है क्योंकि उनकी चाहत देश में अद्भुत और अलौकिक स्थल वाल्मीकि नगर को अंतरराष्ट्रीय फलक पर देखने की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ईको टूरिज्म के क्षेत्र में देश में सबसे बड़ा स्थान वाल्मीकि नगर का होगा। सरकार की ऐसी कोशिश है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण के नजरिए से सबसे सुंदर जगह है वाल्मीकि नगर और यहां सड़क मार्ग से रोड की समस्या जल्द ख़त्म कर लोगों को आने जाने की सुविधा दी जाएगी। उन्होंने टाइगर रिजर्व में बढ़ते बाघों की संख्या पर सरकार की सक्रियता और वन विभाग की कोशिश का नतीजा बताया।

कुमार ने लोगों का आह्वान करते हुए कहा, “हम तो बार बार यहां आते हैं, आप भी आइए और मुस्कुराइए की आप वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के जंगल में हैं । बिहार में सबसे ख़ास जगह वाल्मीकि नगर है जो प्रकृति की गोद में बसा है यहां अद्भुत नज़ारा है। ईको टूरिज्म के क्षेत्र में देश में सबसे बड़ा स्थान वाल्मीकि नगर का होगा हमारी सरकार की ऐसी कोशिश है।”