+

सोशल डिस्टेंसिंग के लिए निकाला नायाब तरीका

बड़वानी (उत्तम हिन्दू न्यूज): मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के ठीकरी विकासखंड के बरूफाटक स्थित एकमात्र राष्ट्रीयकृत बैंक के बाहर लगने वाली भीड़ से संक्रमण के बचाव के मद्देनजर ग्रामीणो
सोशल डिस्टेंसिंग के लिए निकाला नायाब तरीका

बड़वानी (उत्तम हिन्दू न्यूज): मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के ठीकरी विकासखंड के बरूफाटक स्थित एकमात्र राष्ट्रीयकृत बैंक के बाहर लगने वाली भीड़ से संक्रमण के बचाव के मद्देनजर ग्रामीणों ने नायाब तरीका निकालते हुए स्वयं की जगह जूते चप्पलों को कतार में लगा दिया।

बरूफाटक में एकमात्र बैंक होने के चलते वृद्धावस्था पेंशनर, जनधन खाता धारक , दिव्यांग पेंशनर तथा अन्य मजदूर वर्ग अपना पैसा निकालने बैंक पहुंच रहे हैं। लेकिन संक्रमण के खतरे के मद्देनजर उन्होंने एक अनूठा तरीका निकाला। ग्रामीण सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए कतार में खड़े होने की बजाय अपने जूते चप्पल लाइन में रखकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं।

राष्ट्रीयकृत बैंक के शाखा प्रबंधक उत्तम शर्मा ने बताया कि क्षेत्र में करीब 30 किलोमीटर दायरे में एकमात्र शाखा होने के चलते कार्य का बहुत दबाव है। इस शाखा में 37000 खाताधारक हैं और प्रतिदिन करीब डेढ़ सौ से अधिक खाताधारकों का लेनदेन होता है। इसके चलते एक उपाय ढूंढा गया और खाताधारक संक्रमण से बचाव के मद्देनजर कतार में न लग कर अपने जूते चप्पल लगाकर अपनी बारी का इंतजार करते हैं।

ग्रामीण उपभोक्ता विक्रम तथा एक अन्य उपभोक्ता महिला ने बताया कि चप्पलों की लाइन लगा दी जाती है और नंबर आने पर उन्हें आगे बढ़ा दिया जाता है। हालांकि उन्होंने बताया कि बैंक के बाहर छांव अथवा पेयजल की उचित व्यवस्था नहीं होने से दिक्कत आ रही है। ग्रामीणों ने बताया कि सुबह 6:00 बजे से जूते चप्पलों की लाइन लग जाती है। 
 

शेयर करें
facebook twitter