केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बताया पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोतरी का कारण, जानिए क्या कहा

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): पेट्रोल-डीजल में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बढ़ने की वजह से घरेलू बाजार में पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि कीमतें धीरे-धीरे ही कम होंगी। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के चलते पहले ईंधन की वैश्विक सप्लाई पर भी असर पड़ा है, इससे उत्पादन भी कम कर दिया गया, लेकिन अब औद्योगिक गतिविधियों के पटरी पर आने से मांग बढ़ रही है और इसके साथ ही कीमतें भी बढ़ रही है। प्रधान ने कहा कि हम जीएसटी परिषद से लगातार पेट्रोलियम उत्पादों को इसके दायरे में शामिल करने का अनुरोध कर रहे हैं, क्योंकि इससे लोगों को फायदा होगा।

Petrol, diesel prices go up for 15th day. Here are today's rates |  Hindustan Times

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र पर धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि सोनिया जी को पता होना चाहिए कि राजस्थान और महाराष्ट्र में सबसे अधिक कर है। लॉकडाउन के दौरान केंद्र और राज्य सरकारों की कमाई बेहद कम थी। हमने नौकरियों में वृद्धि लाने के लिए बजट में विभिन्न क्षेत्रों को बड़े हिस्से आवंटित किए हैं। 

Petrol and diesel prices in your city today, check here

लगातार बढ़ रहे ईंधन के दामों को लेकर विपक्ष लगातार मोदी सरकार पर हमलावर होता जा रहा है। इससे पहले रविवार को धर्मेंद्र प्रधान ने बताया था कि ईंधन की कीमत बढ़ने के पीछे दो मुख्य कारण हैं। पहला अंतरराष्ट्रीय बाजार ने ईंधन का उत्पादन कम कर दिया है। अधिक लाभ प्राप्त करने के लिए विनिर्माण देश कम ईंधन का उत्पादन कर रहे हैं। इससे उपभोक्ता देशों की परेशानियां बढ़ गईं हैं। धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि हम लगातार ओपेक और ओपेक प्लस देशों से आग्रह कर रहे हैं कि ऐसा नहीं होना चाहिए। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ईंधन की कीमतें बढ़ने का एक और कारण वैश्विक महामारी कोरोना वायरस भी है।