Exams को लेकर UGC का बयान, अगस्त-सितंबर में 366 Universities में एग्जाम कराने की योजना

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): कोरोना दौर मे परीक्षाओं को लेकर यूजीसी का कहना है कि इन 755 विश्वविद्यालयों में से, 321 राज्य विश्वविद्यालय, 274 निजी, 120 डीम्ड और 40 केंद्रीय विश्वविद्यालय हैं। कुल 560 विश्वविद्यालयों में से 194 पहले ही अपनी परीक्षा करा चुके हैं और 366 विश्वविद्यालय अगस्त या सितंबर में परीक्षा आयोजित करने की योजना बना रहे हैं। यूजीसी ने कहा कि उत्तरदाताओं में 27 निजी विश्वविद्यालय ऐसे हैं जिनकी हाल ही स्थापना हुई है। इसलिए अभी उनके यहां पर कोई स्टूडेंट अंतिम वर्ष का नहीं है।

यूजीसी की गाइडलाइंस के अनुसार कॉलेजों व विश्वविद्यालयों के लिए 30 सितंबर तक यूजी और पीजी कोर्सेस के फाइनल ईयर/सेमेस्टर की परीक्षाएं कराना आवश्यक है। कोरोना संकट के बीच यूजीसी की गाइडलाइन्स को लेकर तमाम राज्यों में असमंजस की स्थिति बरकरार है। बता दें कि दिल्ली, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र, ओडिशा, मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल की सरकारें अपने क्षेत्राधिकार के भीतर आने वाले विश्वविद्यालयों की सभी परीक्षाएं रद्द कर चुकी हैं। 

पूरे भारत में सभी शैक्षणिक संस्थान कुछ महीनों से बंद
बता दें कि कोरोना वायरस महामारी और उसके बाद लगे लॉकडाउन से पूरे भारत में सभी शैक्षणिक संस्थान पिछले कुछ महीनों से बंद हैं। इसके साथ परीक्षाएं भी टाल दी गई थीं। हालांकि बाद में यूजीसी ने टर्मिनल सेमेस्टर और अंतिम वर्ष की परीक्षाओं के संचालन को लेकर गाइड लाइन जारी की है। यूजीसी ने एग्जाम के समय सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने की सलाह दी है। हालांकि देश भर से बड़ी संख्या में छात्र और शिक्षक एग्जाम कराने का विरोध कर रहे हैं।