फडणवीस के आरोपों पर उद्धव ठाकरे ने दिया जवाब, कहा- सबको पता है कौन झूठ बोल रहा है

08:47 PM Nov 08, 2019 |

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भाजपा और देवेंद्र फडणवीस के आरोपों का जवाब दिया है। देवेंद्र फडणवीस की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भी मीडिया को संबोधित किया और देवेंद्र फडणवीस के आरोपों पर जवाब देते हुए कहा कि हमने हमेशा लोगों की आवाज उठाई है। हम सरकार का हिस्सा होने के बाद भी उनसे (भाजपा) सवाल पूछते थे, इसलिए लोगों ने हमारा समर्थन किया। उन्होंने कहा कि देवेंद्र फडणवीस ने अमित शाह का हवाला देकर ढाई साल के सीएम की बात होने से इनकार किया। उन्होंने कहा कि जनता को पता है कि कौन झूठ बोल रहा है।

शुक्रवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की प्रेस वार्ता के बाद आयोजित शिवसेना की ओर से आयोजित पत्रकार सम्मेलन में उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमारा काम भाजपा जैसा नहीं है। अमित शाह ने कहा था कि जिनकी ज्यादा सीट होगी, सीएम उनका ही होगा। मैंने कहा कि मैं यह नहीं मानूंगा। उन्होंने कहा कि पदों और मुख्यमंत्री पद को लेकर 50-50 पर सहमति बनी थी। मुझे इस पर सफाई देने की जरूरत नहीं है। मैंने (भाजपा) उनका समर्थन इसलिए किया था, क्योंकि देवेंद्र फडणवीस मेरे अच्छे मित्र हैं। क्या फैसला हुआ था, इस बारे में मैं शिवसैनिकों से झूठ नहीं बोल सकता हूं।

उद्धव ने देवेंद्र फडणवीस के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि मोदीजी पर टिप्पणी की बात कही गई। मैंने मोदीजी पर कोई टिप्पणी नहीं की है। मोदीजी पर टिप्पणी की बात है, तो दुष्यंत चौटाला ने काफी कुछ कहा है। उन्होंने कहा कि आरएसएस को यह साफ करना चाहिए कि क्या हम एक हिंदू पार्टी नहीं है?

उद्धव ने आरोप लगाया कि भाजपा अब झूठ बोलना बंद करे। मुझ पर फडणवीस झूठ बोलने का आरोप लगा रहे हैं। पीएम मोदी ने मुझे छोटा भाई बताया था, लेकिन जो बयान दिये जा रहे हैं, वह बड़े भाई की तरह नहीं हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में किसानों तक कर्जमाफी का पैसा नहीं पहुंचा। कौन सच्चा और कौन झूठा है, इस पर भाजपा के प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि हमने कभी चर्चा बंद नहीं की थी। जब मुझे पता चला ककि भाजपा समझौते से हट रही है, तब हमने बातचीत बंद कर दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा अगर मुझे झूठा बोलेगी, तो बर्दाश्त नहीं करूंगा।

शिवसेना अध्यक्ष ने कहा कि मैंने भी अटल-आडवाणीजी की कभी आलोचना नहीं की है। अभी मैंने नरेंद्र मोदी पर टिप्पणी नहीं की है, जब आलोचना की भी थी, तो पॉलिसी की आलोचना थी। मैंने कोई निजी आलोचना नहीं की है। उन्होंने कहा कि लोग जानते हैं कि शिवसेना प्रमुख और उनका बेटा झूठ नहीं बोलते। मैंने बाला साहेब को शिवसेना का सीएम बनाने का वचन दिया है। अगर भाजपा समझौते पर रहेगी, तो ठीक है नहीं तो विकल्प खुले हैं।