Saturday, February 23, 2019 05:14 PM

NH-74 भूमि घोटाला में दो आईएएस निलंबित

देहरादून (उत्तम हिन्दू न्यूज) : उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार ने राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच)-74 के मुआवजा घोटाले में कड़ा रुख अख्तियार करते हुए अखिल भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के दो अधिकारियों पंकज कुमार पांडेय और चंद्रेश कुमार यादव को मंगलवार को निलंबित कर दिया। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने आज यहां संवाददाताओं को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एनएच घोटाले की जांच की परिधि में आने के कारण आईएएस चंद्रेश कुमार यादव और पंकज कुमार पांडेय को निलंबित किया गया है। उन्होंने दोहराया कि किसी भी स्तर पर भ्र्ष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2011 से 2016 के बीच राज्य के कुमायूं मण्डल के ऊधमसिंह नगर जनपद में एनएच 74 के लिए भूमि अधिग्रहण की गई। इसके मुआवजे के वितरण में भूपयोग बदल दिया गया। इसकी शिकायत पर जब तत्कालीन आयुक्त ने जांच की तो इसमें 300 करोड़ का घोटाला सामने आया। तब तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इसकी जांच पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी)को सौंप दी। शुरुआती जांच में यह बात सामने आई कि मुआवजा देने के लिए भू-उपयोग बदला गया है। इस संबंध में आयुक्त स्तर पर की गई जांच के बाद आठ पीसीएस को प्रथम दृष्ट्या आरोपी करार दिया गया है। इनमें से सात निलंबित चल रहे हैं जबकि एक सेवानिवृत्त हो चुके हैं। 

देश की सबसे बड़ी और तेज WhatsApp News Service से जुड़ने के लिए हमारे नंब 7400043000 पर Missed Call दें। इस नंबर को Save करना मत भूलें।