त्रिपुरा सरकार ने आईपीएस अफसर और 8 टीएसआर कर्मियों को निलंबित किया

अगरतला (उत्तम हिन्दू न्यूज): त्रिपुरा की सरकार ने मंगलवार को भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के एक अधिकारी और त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (टीएसआर) के आठ कर्मियों को निलंबित कर दिया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। त्रिपुरा गृह विभाग के अधिकारी ने कहा, चकमघाट स्थित त्रिपुरा स्टेट राइफल्स मुख्यालय में 12वीं बटालियन के पांच टीआरएस जवानों ने पिछले हफ्ते अपने दो साथियों भोजवीर सिंह चौहान और जयदीप प्रसाद तवरा के साथ बेरहमी से मारपीट की। 

उन्होंने कहा, गंभीर चोटें आने के बाद मध्य प्रदेश निवासी भोजवीर को यहां के गोविंद बल्लभ पंत मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल में भर्ती कराना पड़ा। तवरा को वापस उनके घर राजस्थान भेजा गया है। अधिकारी ने बताया की घटना की जानकारी सोमवार को मिली। इसके बाद सरकार ने त्रिपुरा स्टेट राइफल्स 12वीं बटालियन के कमांडेंट आईपीएस रति रंजन देबनाथ व पांच जवानों को निलंबित कर दिया। दूसरी घटना में, 11वीं बटालियन के तीन और जवानों को निलंबित कर दिया गया। 17 मई को मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के सरकारी आवास के पास विरोध प्रदर्शन के दौरान उन्हें कर्तव्य में लापरवाही का दोषी पाया गया।

आतंक से निपटने के लिए आतंकवाद रोधी अभियानों के लिए प्रशिक्षित टीएसआर का गठन मार्च 1984 में हुआ था। इसमें 75 प्रतिशत जवान त्रिपुरा से हैं।