त्रिपुरा में विधायक के खिलाफ दुष्कर्म मामले की जांच शुरू

अगरतला (उत्तम हिन्दू न्यूज): त्रिपुरा पुलिस ने इंडियन पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) विधायक धनंजय त्रिपुरा के खिलाफ एक आदिवासी लड़की को शादी का झांसा देकर उससे दुष्कर्म किये जाने के मामले की जांच शुरू की है। धलाई जिले में रिमावैली के विधायक धनंजय ने अपने खिलाफ आरोपों को खारिज किया है और इसे उनकी छवि धूमिल करने के लिए राजनीतिक षडयंत्र निरूपित किया है।

पुलिस अधीक्षक (पश्चिम त्रिपुरा) अजीत प्रताप सिंह ने कहा, हमने मामला दर्ज कर लिया है और आरोपों की जांच शुरू कर दी है। पीड़िता का चिकित्सकीय परीक्षण पूरा किया जा चुका है और सभी दृष्टिकोण से लग रहा है कि आरोप में सत्यता है। मामले में हालांकि अभी कोई गिरफ्तारी नहीं की गयी है। 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि पीड़िता ने रविवार को मंडई थाने में विधायक के खिलाफ रविवार को रिपोर्ट दर्ज करायी। रिपोर्ट में कहा गया कि आरोपी से उसकी पहली मुलाकात 2010 में हुई थी और एक साल बाद में दोनों के बीच अफेयर हो गया। उसने शादी का झांसा देकर 2014 से बहुत बार उसका दैहिक शोषण किया, लेकिन कई बार शादी की तिथि तय करने के बाद भी शादी टालता रहा। विधायक बनने के बाद उन्होंने पूरी तरह से संपर्क विच्छेद कर लिया।