टोरंटो फिल्मोत्सव : बाल मजदूरी पर भारतीय फिल्म का फर्स्ट लुक आएगा

टोरंटो (उत्तम हिन्दू न्यूज): नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी समर्थित फिल्म 'झलकी : टेल ऑफ अ टायरलेस स्पैरो' का फर्स्ट लुक टोरंटो अंतर्राष्ट्रीय फिल्मोत्सव (टीआईएफएफ) में जारी किया जाएगा। 

यह फिल्म बंधुआ बाल श्रमिकों, उनकी तस्करी व बचपन पर आघात पहुंचाने के विषय पर आधारित है। यहां फिल्म निर्माताओं की उपस्थिति में रविवार को यह फिल्म, फिल्म प्रेमियों, वितरकों और फिल्मोत्सव के सलाहकारों को दिखाई जाएगी। इसमें स्पेशल प्रोमो और इस मौके के लिए तैयार किए गए पोस्टर को जारी किया जाएगा। फिल्म से ब्रह्मानंद सिंह बतौर निर्देशक पदार्पण कर रहे हैं।

'झलकी' अगले वर्ष फरवरी में रिलीज होगी। फिल्म में बोमन ईरानी, संजय सूरी, दिव्या दत्ता, तनीशा चटर्जी, गोविंद नामदेव और कुछ अन्य कलाकारों के साथ-साथ नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने मेहमान भूमिका निभाई है। फिल्म का निर्माण 'मोबिअस फिल्म्स' और 'ओएमजी' ने आनंद चवान के साथ किया है। फिल्म के सह-निर्माता विनायक गावंडे और जयेश पारेश तथा सह-निर्देशक तन्वी जैन हैं।

Related Stories: