बीमारी से जल्दी निजात पाने के लिए शख्स ने इंजेक्ट कर की मशरूम की चाय, फिर जो हुआ जानकर रह जाएंगे दंग

वाशिंगटन (उत्तम हिन्दू न्यूज): अमेरिका स्थित नेब्रास्का में एक 30 साल के शख्स ने मशरूम का रस निकाल कर उसे अपने शरीर में इंजेक्ट कर लिया। जिसके कुछ घंटों बाद उसकी नसों में ये मशरूम उगने लगा। जिसकी वजह से उसकी ऑर्गन फेल्योर तक की नौबत आ सकी। बहुत मुश्किल से डॉक्टरों ने उसे बचाया लेकिन हिदायत दी कि अब उसे कई सालों तक एंटीफंगल दवाइयां खानी पड़ेंगी।

How a man ended up with mushrooms growing in his blood

खबर के मुताबिक 30 वर्षीय शख्स बाइपोलर डिस्ऑर्डर नामक मानसिक बीमारी से ग्रसित है। काफी डिप्रेशन में रहता है। डॉक्टरों ने इसे साइकेडेलिक मशरूम (Psychedelic Mushroom) खाने के लिए कहा था। क्योंकि इस मशरूम में साइलोसाइबिन (Psilocybin) नामक तत्व होता है जो ऐसे मरीजों के दिमाग को शांत रखता है। इस शख्स ने साइकेडेलिक मशरूम (Psychedelic Mushroom) उबाला, उसका पानी कॉटन के कपड़े से छाना और फिर उसे सुई से अपनी नसों में इंजेक्ट कर लिया। 

An American almost died after injecting hallucinogenic mushroom tea

दो दिन के बाद वह बेहद थका हुआ महसूस कर रहा था। खून की उल्टियां कर रहा था। उसे पीलिया, डायरिया हो गया था। साथ ही वह कन्फ्यूजन की स्टेट में था। जब अस्पताल में डॉक्टरों ने उसकी जांच की तो पता चला कि इस शख्स ने जिस साइकेडेलिक मशरूम (Psychedelic Mushroom) का पानी अपने शरीर में डाला है उसके प्रभाव से इसकी नसों में वह मशरूम पैदा हो रहा है।  डॉक्टरों ने जांच के बाद पाया कि उसके लिवर में घाव हो गया है। उसके अंग निष्क्रियता यानी ऑर्गन फेल्योर की तरफ जा रहे हैं। जिसके तुरंत बाद उसे वेंटिलेटर पर रखा गया। उसके खून को तुरंत बदला गया। शरीर में बचे हुए खून से टॉक्सिन निकालने के लिए उसे अस्पताल में 22 दिन तक रखा गया। जब उसे अस्पताल से बाहर डिस्चार्ज किया गया तब उसे दो एंटीबायोटिक और एक एंटीफंगल दवा देकर भेजा गया। एंटीफंगल दवा उसे कई सालों तक खानी पड़ेगी। 

What the future holds for medical psychedelics in Canada - National |  Globalnews.ca

 

साइकेडेलिक मशरूम (Psychedelic Mushroom) को खाने के बाद शरीर में हुए प्रभावों को लेकर एक रिपोर्ट जर्नल ऑफ द एकेडेमी ऑफ कंसलटेशन लायसन साइकेट्री में प्रकाशित हुई है। जो डॉक्टर इस शख्स का इलाज कर रहा था, उसने बताया कि इसे बाइपोलर डिस्ऑर्डर टाइप 1 था। यह कई बार मैनिएक और डिप्रेशन का शिकार हो चुका है। कभी हिंसक हो जाता था तो कभी एकदम शांत। इसलिए इसे साइलोसाइबिन (Psilocybin) नाम की दवा खाने की हिदायत थी। डॉक्टर ने साइकेडेलिक मशरूम (Psychedelic Mushroom) खाने के लिए कहा था। क्योंकि ये मानसिक बीमारियों में मदद करता है।  लेकिन उस शख्स ने इसे उबालकर इसके पानी को अपनी नसों में सुई से डाल लिया. साइकेडेलिक मशरूम (Psychedelic Mushroom) को मैजिक मशरूम भी कहते हैं। ये डिप्रेशन और एनजाइटी को खत्म करने में सहायक होते हैं. लेकिन इनकी डोज और टाइमिंग का सही इस्तेमाल डॉक्टरी सलाह पर ही होना चाहिए।