OMG : पिता की मौत के ठीक तीन साल बाद दुनिया में आया उसका बेटा

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : एक मार्केटिंग कंसलटेंट की सड़क हादसे में मौत हो गयी थी। उसके ठीक तीन साल बाद उसके बेटे का जन्म हुआ है। युवक की पत्नी ने जसलोक हॉस्पिटल में उसके बेटे को जन्म दिया और यह सब प्यार, इंतजार और तकनीक के चलते संभव को पाया। आपको बता दें बेंगलुरु में काम कर रहे करीब 30 साल के दंपती सुप्रिया जैन और गौरव एस ने जिंदगी आगे बढ़ाने का फैसला किया। शादी के पांच साल बाद भी जब वे माता-पिता नहीं बन सके तो उन्होंने आईवीएफ तकनीक की मदद ली। इस प्रक्रिया में जाने के कुछ दिन बाद गौरव की सड़क हादसे में मौत हो गई।

हादसे के बाद सुप्रिया को संभलने में वक्त लगा। मूल रूप से जयपुर की सुप्रिया ने किस्मत में विश्वास रखती हैं। उन्होंने बिना अपने पैरंट्स से बात किए एक फैसला लिया। वह कहती हैं, हमने बच्चे को लेकर एक शुरुआत की थी और हम अगला कदम उठा सकते थे। उन्होंने अपने पति के बच्चे को जन्म देने का मन बनाया और डॉ. फिरूजा पारिख से मुलाकात की। इसके बाद उनका मां बनने का खर्चीला और लंबा सफर शुरू हुआ। 

डॉक्टरों का कहना है कि यह आसान नहीं था और बहुत मुश्किल से सुप्रिया के पति के स्पम्र्स को संभाल कर रखा जा सका। डॉ. पारिख कहती हैं, हम कोई रिस्क नहीं लेना चाहते थे। हमने कई बार एग्स फर्टिलाइज करने की कोशिश की लेकिन बात नहीं बनी। हमने सरोगेट ढूंढने का फैसला भी किया। उन्होंने कहा, जब हमारे पास एक आखिरी मौका था और हम उम्मीद लगभग खो चुके थे, यह काम कर गया।

सुप्रिया बाली में थीं जब उन्हें सरोगेट मदर से अपने बेटे के होने का पता चला। वह कहती हैं, मैं उम्मीद करती हूं वह अपने पापा जैसा दिखेगा। सुप्रिया ने कहा, मैं बच्चा नहीं, गौरव का बच्चा चाहती थी। हमने पहले ही तय किया था कि हमारा एक बच्चा होगा और दूसरा हम अडॉप्ट कर लेंगे। अच्छी बात यह है कि गौरव की मौत वाले दिन अब मुझे शहर छोड़कर भागने का मन नहीं होगा। सुप्रिया को अब एक बेटा मिला है वो भी गौरव का। सुप्रिया खुश है। 

Related Stories: