वाराणसी में मां के हत्यारे समेत तीन गिरफ्तार

वाराणसी (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तर प्रदेश की वाराणसी पुलिस ने मां की हत्या के आरोपी कलयुगी बेटे समेत तीन युवकों को शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुरेश राव आनंद कुलकर्णी ने इस सनसनीखेज हत्या कांड का खुलासा करते हुए पत्रकारों को बताया कि मृतका के बेटे अमित कुमार जायसवाल, उसके दुकान पर काम करने वाला धीरज उर्फ धीरू शीतलानी एवं उसके दोस्त शिवम सिंह को गिरफ्तार किया गया है। अमित ने मां की हत्या से पहले उसे नींद की गोलियां खिलायी फिर बिजली के झटके दिये और बाद में चाकू घोंप कर हत्या कर दी। सबूत मिटाने के लिए उसने शव को बक्से में बंद कर घर से दूर झाड़ियों में फेंक दिया था। 

उन्होंने बताया कि 20 सितंबर की सुबह कैंट क्षेत्र लालपुर इलाके की झाड़ियों में सिगरा क्षेत्र की औरंगाबाद की निवासी मीरा जायसवाल (46) का शव मिला था। मौके पर मिली रसोई गैस पास बुक से मृतका की पहचान हुई। संदेह के आधार पर पुलिस ने अमित से सख्ती से पूछताछ की तो उसने हत्या करने की बात स्वीकार कर ली। उसने पुलिस को बताया कि कैंट क्षेत्र के पांडेयपुर निवासी धीरज और रमरेपुर पहड़िया के रहने वाले शिवम के साथ मिलकर अपनी मां हत्या को अपने ही घर में अंजाम दिया था। सबूत मिटाने के लिए उसने घर से करीब सात किलोमीटर दूर शव को झाड़ियों में फेंक दिया था।

कुलकर्णी ने बताया कि पुलिस को दिये अपने बयान में अमित ने कहा कि मां उसके साथ नौकर की तरह व्यवहार करती थी। उसकी शादी इसी वर्ष जून में हुई थी। मां पत्नी को भी अक्सर प्रताड़ित करती थीं। उसे जरूरी खर्चें भी बड़ी मुश्किल से देती। उसे अपने इलेक्ट्रिक की दुकान पर नौकर की तरह काम करना पड़ता था। मां की हरकतों के कारण ही उसके पिताजी करीब डेढ़ वर्ष पहले घर छोड़ कर कहीं चले गए थे तथा पत्नी भी उसे छोड़कर गोरखपुर स्थित अपने मायके चली गई।