कर्ज न चुकाने वालों पर बड़ी कार्रवाई की तैयारी में सरकार, उठाने जा रही है यह कदम

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): अब कर्ज लेनदार के विदेश भागने की आशंका पर पासपोर्ट जब्त हो सकता है। जी हां, मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सरकार इसी महीने में इसे कानूनी मंजूरी दे सकती है। पासपोर्ट जब्त करने की गाइडलांइस फाइनल हो गई है। कर्ज डिफॉल्ट का केस दर्ज होने पर पासपोर्ट जब्त हो जाएगा। दरअसल, सरकार ये कदम उन लोगों के खिलाफ उठाने जा रही है जो जानबूझकर कर्ज नहीं चुकातें। 

इसके लिए पासपोर्ट एक्ट के सेक्शन 10(3)(सी) में बदलाव होगा। इसको इसी महीने कैबिनेट से मंजूरी मिल सकती है। इसके लिए सरकार अध्यादेश भी ला सकती है।

बता दें कि बैंकिंग सचिव की अगुवाई में बनी कमेटी ने इसकी सिफारिश की थी। 50 करोड़ रुपये से ज्यादा के कर्ज नहीं चुकाने पर ये नियम लागू होगा। ऐसा माना जा रहा है कि पासपोर्ट की कॉपी मांगने से प्रमोटरों पर और दबाव बढ़ेगा। उन्हें पता होगा कि देश से भागने की कोशिश करने पर उन्हें एयरपोर्ट पर रोका जा सकता है।
 
लोन डिफॉल्टर मामले में किंगफिशर एयरलाइंस के मालिक विजय माल्या और पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी को भारत लाने की कोशिश की जा रही है। अभी तक सरकार को इसमें सफलता नहीं मिल पाई है। 

Related Stories: