भारत के इस स्टार स्पिनर ने लिया संन्यास, ट्विटर पर बताया सचिन से जुड़ा अपने करियर का सबसे यादगार पल

12:09 PM Feb 21, 2020 |

नई दिल्ली ( उत्तम हिन्दू न्यूज):  टीम इंड‍िया के स्‍प‍िन गेंदबाज प्रज्ञान ओझा ने इंटरनेशनल क्र‍िकेट के तीनों फॉर्मेट और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास लेने की एलान ट्विटर के जरिए कर दिए है। भारत के बेहतरीन लेग स्‍प‍िन गेंदबाजों में शुमार ओझा ने भारत के ल‍िए 24 टेस्‍ट, 18 वनडे और 6 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले।

टेस्‍ट क्र‍िकेट में उनका र‍िकॉर्ड खासा प्रभावी रहा। ओझा ने टेस्‍ट में 30.26 के औसत से 113 व‍िकेट ल‍िए, इसमें सात बार पारी में पांच या इससे अध‍िक व‍िकेट शाम‍िल हैं। ओझा एक बार टेस्‍ट में 10 या इससे अध‍िक व‍िकेट लेने में भी सफल रहे। 47 रन देकर छह व‍िकेट ओझा का टेस्‍ट मैच की एक पारी में सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन रहा है। 

उड़ीसा में स्थित  भुवनेश्वर के रहने वाले प्रज्ञान ओझा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दो पेजों का एक लेटर लिख कर अपने सन्यास के बारे में जानकारी सांझी की है। इस ट्वीट में उन्होंने अपनी टीम के पूर्व कप्तान और साथियों का धन्यवाद किया है। वहीं, इस लेटर के कैप्शन में ओझा ने लिखा है कि अब जीवन के अगले पड़ाव के लिए आगे बढ़ने का समय आ गया है।

 प्यार और समर्थन देने वाला हर एक शख्स का मुझे हमेशा याद रहेगा और मुझे इससे हमेशा मोटिवेशन मिलेगा। ट्वीट में उन्होंने कहा कि भारतीय टीम के लिए खेलना उनका बचपन का सपना था और उन्हें खुशी है कि वह ऐसा कर पाए और देश के फैंस का प्यार और इज्जत हासिल की। 


ओझा ने भारतीय टीम में खेलने का श्रेय पूर्व कप्तान धोनी को  देते हुए उन्होंने कहा, 'मुझे भारतीय टीम में खेलने का मौका देने के लिए मैं महेंद्र सिंह धोनी का शुक्रिया अदा करता हूं। ' ओझा का नाम इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में भी दर्ज है। वह आईपीएल इतिहास के पर्पल कैप विजेता बनने वाले पहले स्पिनर हैं। उन्होंने साल 2010 के आईपीएल में 21 विकेट लेकर पर्पल कैप अपने नाम की थी।