रेलवे के इस फैसले ने बढ़ाई यात्रियों की दिक्कत, होली पर होगी भारी परेशानी

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में कोहरे और भीषण ठंड का प्रकोप तो लगभग समाप्त हो गया है, लेकिन लाखों रेल यात्रियों की परेशानी अभी दूर नहीं हुई है। यह समस्या आगामी 31 मार्च तक भी जारी रहेगी। दरअसल, भारतीय रेलवे ने कोहरे और भीषण ठंड के दौरान मध्य दिसंबर से 46 ट्रेनों को निरस्त और 40 ट्रेनों के फेरे कम करने की घोषणा की थी। पहले 31 जनवरी तक ट्रेनें रद्द की गई थीं जिसे बढ़ाकर 29 फरवरी तक किया गया और अब यह तिथि 31 मार्च तक बढ़ा दी गई है। जाहिर है कि इसके चलते यूपी-बिहार और बंगाल समेत तमाम राज्यों से दिल्ली आवागमन करने वाले रेल यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

रेलवे स्टेशन पर खड़ी ट्रेन

उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार का कहना है कि हरियाणा, पंजाब के साथ ही पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई हिस्से में अब भी देर रात व सुबह घना कोहरा पड़ रहा है। इस वजह से ट्रेन परिचालन में परेशानी हो रही है। रेलवे से जुड़े अधिकारी भी कह रहे हैं कि इतनी बड़ी संख्या में ट्रेनों के रद्द रहने से होली के त्योहार के दौरान ट्रेन यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। बता दें कि होली के त्योहार के दौरान उत्तर भारत के राज्यों बिहार और उत्तर प्रदेश जाने वालों की संख्या ज्यादा होती है। होली हर कोई अपने परिवार के साथ मनाना चाहता है, ऐसे में लोगों को असुविधा होगी।

Image result for This decision of Railways increased the problem of passengers there will be a lot of trouble on Holi

निरस्त की गईं प्रमुख ट्रेनें
अमृतसर गोरखपुर जनसाधारण एक्सप्रेस, नई दिल्ली-रोहतक एक्सप्रेस, लिच्छवी एक्सप्रेस, आनंद विहार टर्मिनल-संतरागाछी एक्सप्रेस, आनंद विहार-हटिया झारखंड स्वर्णजयंती एक्सप्रेस, नई दिल्ली-मालदा टाउन एक्सप्रेस।

सप्ताह में एक दिन निरस्त रहने वाली प्रमुख ट्रेनें
भागलपुर गरीब रथ, अमृतसर-हावड़ा एक्सप्रेस, नई दिल्ली-राजेंद्र नगर जनसाधारण एक्सप्रेस, महाबोधि एक्सप्रेस, स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस, आनंद विहार-रक्सौल एक्सप्रेस, हमसफर एक्सप्रेस व नई दिल्ली-नई जलपाईगुड़ी एक्सप्रेस।