Wednesday, February 20, 2019 04:54 PM

तेलंगाना विधानसभा भंग करने की सिफारिश, सीएम केसी राव को राज्यपाल ने बनाया केयरटेकर

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव ने आज विधानसभा भंग करने का फैसला किया है। इस संबंधी प्रस्ताव को मंत्रिमंडल की बैठक में पारित कर दिया गया है। बैठक के बाद मुख्यमंत्री केसीआर ने राज्यपाल इएसएल नरसिम्हन से मुलाकात कर विधानसभा भंग करने का प्रस्ताव सौंपा जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया। राज्यपाल ने केसी राव को केयरटेकर नियुक्त कर दिया है।

प्रस्ताव पारित होते ही प्रदेश में विधानसभा चुनाव समय से पहले कराए जाने का रास्ता फिलहाल साफ होता दिख रहा है। अगर ऐसा होता है तो प्रदेश में विधानसभा चुनाव देश में अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पांच महीने पहले यानी नवंबर-दिसंबर में हो सकते हैं। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद केसीआर ने राजभवन पहुंच कर राज्यपाल इएसएल नरसिम्हन से मुलाकात की। हालांकि रास्ते में सीएम को कुछ प्रदर्शनकारियों के विरोध का सामना करना पड़ा। 

उल्लेखनीय है कि विधानसभा भंग किए जाने को लेकर 6 सितंबर का दिन चुने जाने का कारण बेहद ही अहम है। पार्टी के सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री राव 6 नंबर को काफी लकी मानते हैं। राव का मानना है कि यह तारीख उनके के लिए कई मायनों में खास और फलदायक साबित हो सकती है।

देश की सबसे बड़ी और तेज WhatsApp News Service से जुड़ने के लिए हमारे नंब 7400043000 पर Missed Call दें। इस नंबर को Save करना मत भूलें।