किसानों और सरकार में फिर वार्ता शुरू, समाधान का इंतजार

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज)-तीन कृषि कानूनों को लेकर जारी किसान आंदोलन के बीच आज किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र सरकार के बीच फिर वार्ता शुरू हुई। इस वार्ता में समाधान निकलने की उम्मीद जताई जा रही है। यह बैठक नई दिल्ली के विज्ञान भवन में हो रही है। बैठक में केंद्र की तरफ से कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और रेलवे मंत्री पीयूष गोयल शिरकत रहे हैं। किसानों के साथ बैठक से पहले तोमर और पीयूष गोयल ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक की। यह बैठक करीब 1 घंटे चली। इस बैठक में भाग लेने के बाद तोमर और पीयूष गोयल किसानों के साथ बैठक के लिए विज्ञान भवन पहुंचे। 


उधर, किसानों और सरकार के बीच मध्यस्थता का प्रयास करने वाले नानकसर कलेरां वाले बाबा लक्खा सिंह ने दावा किया कि कल जब उन्होंने केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से मुलाकात की तो केंद्रीय कृषि मंत्री उनसे बातचीत के दौरान रो पड़े। किसानों के मुद्दों पर वह काफी भावुक दिखे। उन्होंने कहा कि सरकार ने बड़े ध्यान से दो घंटे तक हमारी बात सुनी।


सूत्रों के मुताबिक बाबा लक्खा सिंह ने सरकार का पक्ष सुना।  कृषि मंत्री ने कहा कि हम दस कदम आगे बढ़े. किसान संगठनों को भी कुछ आगे बढ़ना चाहिए। रद्द करने की बात को छोड़ और कोई भी प्रस्ताव दे तो सरकार आगे फिर उसपर विचार करेगी।