पूर्व CJI रंजन गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न केस को सुप्रीम कोर्ट ने किया बंद

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): सुप्रीम कोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस (CJI) जस्टिस रंजन गोगोई पर लगे सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोप के मामले को कोर्ट ने बंद कर दिया है। इसके अलावा कोर्ट ने वकील उत्सव बैंस की ओर से इस मामले पर न्यायपालिका को बदनाम करने की साजिश की जांच कराने की मांग वाली याचिका को भी बंद कर दिया है। जस्टिस एके पटनायक की रिपोर्ट के आधार पर सुप्रीम कोर्ट ने मामले का निपटारा किया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मामले को दो साल हो चुके हैं और ऐसे में साजिश की जांच संभव नहीं है। 

Image result for Supreme Court

सुप्रीम कोर्ट के वकील उत्सव बैंस ने पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई पर लगे यौन शोषण के आरोपों के पीछे साजिश होने का दावा किया था। इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों की बेंच ने उन्हें नोटिस जारी किया था। कोर्ट ने बैंस को दायर शपथपत्र में दावों को स्पष्ट करने को कहा था।

बैंस ने अपनी जिस फेसबुक पोस्ट में साजिश की बात कही थी, उसी में उन्होंने ये भी लिखा था कि  मुझे लोगों को ये बात बताने से पहले कई वरिष्ठ शुभचिंतकों ने रोका था। शुभचिंतकों ने मुझसे कहा था कि जिन जजों की लॉबी ने ये साजिश रची है, वो मेरे खिलाफ हो जाएगी और मुझे व्यावसायिक रूप से नुकसान पहुंचाएगी।