सुदामा बनकर फिर जनता को ठगने आए रामस्वरूप : आश्रय 

मंडी (पुंछी) : पी.एम ओर सी.एम के नाम पर वोट मांगने वाले सांसद रामस्वरूप शर्मा 5 साल गायब रहे और किया कराया कुछ नंही और अब चुनाव आते ही फिर से सुदामा बनकर प्रकट हो गए है,5 साल अपनी कोई पहचान नंही बनाई और इस बार किस मुंह से उसी जनता से वोट मागें तो अबकि बार पी.एम ओर सी.एम के नाम पर वोट मांग रहे है। जनता एक मौका सभी को देती है लेकिन काठ की हांडी बार-बार नंही चड़ती। यह बात मंडी लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी आश्रय शर्मा ने सोमवार को मंडी में चुनाव प्रचार के दौरान कही।

उन्होने कहा कि  आज मैं जिस भी जगह जा रहा हूं पूरे प्रदेश में विकास के सभी काम ठप्प पड़े है वही जो कार्य कांग्रेस सरकार द्वारा शुरू किए गए थे, भाजपा उन्हें भी पूरा नही करवा पा रही है। आश्रय शर्मा ने  सांसद राम स्वरूप पर जमकर प्रहार करते हुए कहा कि उनकी  नाकामियों से मंडी संसदीय क्षेत्र में गत पांच वर्षों में विकास के कार्य नहीं हो पाए है। सांसद  केबल मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री मोदी के भरोसे अपनी नैया पार लगाने की फिराक में है लेकिन मंडी क्षेत्र की जनता समझ चुकी है कि हमे एक ऐसा सासंद चाहिये जो हमारे विकास कार्यों के साथ हमारी दु:ख तकलीफ में हमारा साथ दे सके। उन्होने कहा कि सांसद राम स्वरूप द्वारा की गई घोषणाएं कोरी ही साबित हुई है।

उन्होंने कहा कि सांसद एवं भाजपा प्रत्याशी पांच साल तक मंडी क्षेत्र की जनता को मुंगेरी लाल के हसीन सपने दिखा अपने उल्लू साधने व सत्ता सुख भोगने के अलावा कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा की जयराम ठाकुर सरकार भी पिछले डेढ़ साल में कोई नई योजना केंद्र से नहीं ला पाई। उन्होंने कहा कि मंडी संसदीय क्षेत्र में अपनी हार देख भाजपा बौखलाहट में है। आश्रय शर्मा ने कहा कि मैं अपने दादा पंडित सुखराम व पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह की तरह विकास को नई दिशा देना चाहता हंू। जीत के बाद पुरानी पैंशन प्रणाली शुरु करवाने के लिए आवाज उठाना व युवाओं को रोजगार के लिए मंडी संसदीय क्षेत्र में प्राइवेट सेक्टर को लाना उनकी प्राथमिकता रहेगी।