कच्ची गली से होकर स्कूल जाने वाले विधार्थी पक्के नाले में गिरे

सोनीपत (सुनील छिक्कारा) : मुंडलाना खंड के अन्र्तगत गांव बिचपड़ी के राजकीय कन्या उच्च विल स्कूल के विधार्थियों को पिछले तीन साल से एक कच्ची गली से होकर स्कूल पहुंचना पड़ता है तथा गली के दोनों और बने पक्के नाले से जब गुजरने लगे तो कई लड़कियां नाले में गिर गई। परेशान अभिभावकों और छात्राओं ने शुक्रवार को गोहाना-सफीदों मार्ग पर करीब एक घंटे तक जाम लगा दिया जिससे वाहनों की लंबी लाईने लग गई। सूचना मिलते ही सदर थाना एसएचओ सेठी मलिक, मुंडलाना खंड के बीईओ परमजीत चहल तथा पंचायती राज के एसडीईओ कुलबीर फौगाट ओर सरपंच राजरानी अपने पति रमेश संग पहूंची और अभिभावकों तथा छात्राओं को एक माह के भीतर गली पक्की बनाये जाने का आश्वासन दिया।

मगर इस पर छात्राओं ने स्कूल में जाने से इंकार कर दिया तो बीईओ ने उच्च अधिकारियों से मौके पर ही मंत्रणा की छात्राओं को गांव के दुसरी और बने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल में जब तक शिफट कर दिया जब तक गली बनकर तैयार नहीं हो जाती। इस दौरान स्कूल का सारा सामान भी शिफट करना पड़ा। बीईओ मुंडलाना परमजीत चहल ने इस बारे में उच्च अधिकारियों से बातचीत करके पूरे स्कूल को सीनीयर सैकेंडरी स्कूल में शिफट कर दिया और मिड डे मिल की भी व्यवस्था कर दी। उन्होंने बताया कि स्कूल में सात कमरे खाली पड़े थे। जबकि प्राइमरी विंग में लड़के और लड़कियों को एक साथ एडजेस्ट कर दिया। तथा एसडीईओ कुलबीर फौगाट ने मौके पर ही गली का एस्टीमेट बनाकर इससे एक माह में बनवाने का भरोसा दिलाया।
 

Related Stories: