Wednesday, September 19, 2018 08:47 PM

मिलावटखोरों पर शिकंजा, पंजाबभर में छापेमारी

चंडीगढ़ (विज): सरसों के तेल की मिलावटखोरी में संलिप्त व्यक्तियों फूड सेफ्टी टीमों ने जोरदार हल्ला बोल दिया। इस संबंधी जानकारी देते हुए खाद्य और ड्रग प्रशासन कमिश्नर, पंजाब के.एस. पन्नू ने बताया कि अबोहर में एन.जी. तेल मिल पर छापेमारी के दौरान फाजिल्का फूड सेफ्टी टीम को 725 लीटर नकली सरसों का तेल और 352 लीटर खाद्य तेल मिला। आगामी जांच के लिए नमूने लेकर स्टाक जब्त कर लिया गया। यह कारोबारी मिलावटी खाने वाले तेल को सरसों के तेल के तौर पर बेच रहा था। टीम द्वारा फैक्ट्री के पैकेजिंग हिस्से और तेल के टैंकर को सील कर दिया गया। टीम द्वारा अब ट्रेडिंग कंपनी के नाम पर घरेलू इमारत में चलाई जा रही दुकान से 46 लीटर रॉयल ताज कुकिंग सामग्री भी जब्त की गई। इससे पहले लुधियाना की टीम द्वारा अमरगड़ के नज़दीक एक उत्पादन इकाई को जांच के बाद सील किया गया। यह उत्पादन इकाई लुधियाना जिले में स्थापित थी जबकि गुमराह करने के लिए पैकेजिंग पता संगरूर जिले का दिया हुआ था। समूह पैकेड सामग्री जोकि तकरीबन 168 लीटर सरसों का तेल था, को ज़ब्त करके फैक्ट्री को सील कर दिया गया।

खन्ना में एक फैक्ट्री में बिना मार्के का सरसों का तेल भी पाया गया। फरीदकोट टीम द्वारा सुभाष फ्लोर मिलों की जांच के उपरांत दो विभिन्न ब्रांड का सरसों का तेल जिसमें कुल 159 किलोगा्रम के 18 बक्से धान ब्रांड के और कुल 96 किलोग्राम के 10 बक्से अन्य ब्रांड के शामिल थे। हरेक संदिग्ध सामग्री के नमूने लेकर स्टाक को कब्ज़े में ले लिया गया। कृष्णा ट्रेडर्स, होशियारपुर में से जांच के दौरान वनस्पती और देसी घी की सुगंध से बने कुल 180 किलोग्राम (10 बक्से हरेक 18 किलो) नकली देसी घी का पर्दाफाश किया गया। स्टाक को सील करके आगामी जांच के लिए देसी घी और वनस्पती के नमूने ले लिए गए। इसके अलावा मन्नत फूडज़ से कुकिंग सामग्री के नमूने लेकर जांच के लिए लैब को भेज दिए गए हैं। फूड सेफ्टी विंग पठानकोट द्वारा अरोड़ा ऑयल एंड फ्लोर मिल और लक्ष्मण सिंह एंड संस नामक तेल की री-पैकिंग वाली इकाईयों का निरीक्षण किया गया। लक्ष्मण सिंह एंड संस में 200 पीपे रसोई ब्रांड सरसों का तेल और 200 पीपे सुनेहरी कोरां सरसों के तेल के पाए गए। अरोड़ा ऑयल एंड फ्लोर मिल में तकरीबन 50 बक्से वेटर ब्रांड सरसों का तेल और 200 बक्से मशल सरसों के तेल के मिले। नमूने लेकर दोनों मिलों को स्वच्छता को बनाई रखने संबंधी जागरूक किया गया। दोनों मिलों के पास एफ.एस.एस.ए.आई. लाईसेंस नहीं था। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।