कम बोली के कारण छठी बार रद्द हुई गुमथला घाट की बोली 

रादौर (नीतीश जोगी) - बीडीपीओ कार्यालय रादौर में बुधवार को यमुनानदी के गुमथला घाट की बोली कम रेट के कारण लगातार छटी बार प्रशासन के अधिकारियों ने रदद कर दी है। बोली में मात्र 3 ठेकेदार भाग लेने के लिए पहुंचे थे। ठेकेदारों ने गुमथला घाट की बोली मात्र 2 लाख  दस हजार रूपए लगाई थी। लेकिन प्रशासन के अधिकारियों को बोली कम लगी। जिसके बाद बीडीपीओ मार्टिना महाजन ने जिला उपायुक्त से बात कर घाट की बोली रदद करने की घोषणा की।

लगातार छटी बार $गुमथला घाट की बोली कम दाम व अन्य कारणो से रदद हुई है। जिसके बाद निराश होकर बोली में भाग लेने आए ठेकेदार वापिस चले गए। पिछली बार 3 मई को हुई घाट की बोली मे ठेकेदारो ने दस लाख रूपये तक की बोली लगाई थी। लेकिन बुधवार को ठेकेदारो ने घाट की बोली मात्र 2 लाख 10 हजार रूपये तक लगाई।  जिसके बाद बीडीपीओ ने बोली रदद कर दी।

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष यमुनानदी का गुमथला घाट 33 लाख रूपए में दिया गया था। लेकिन इस बार घाट के ठेकेदार अब तक 6 बार रदद हुई घाट की बोली में 2लाख से 10 लाख रूपए तक ही बोली दे पाए है। जिस कारण बार बार प्रशासन को घाट की बोली रदद करनी पड रही है। इस बारे बीडीपीओ रादौर मार्टिना महाजन ने बताया कि ठेकेदारों ने घाट की बोली 2 लाख दस हजार रूपए लगाई थी। लेकिन उच्चाधिकारी इतने कम दाम पर घाट की बोली करवाने पर सहमत नहीं हुए। जिसके बाद उन्हें अधिकारियों के आदेश पर बोली रदद करनी पडी है।