टीईटी परीक्षा में छह मुन्नाभाई पुलिस के हत्थे चढ़े

मुरादाबाद (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने रविवार को आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी टीईटी-2018) के दौरान सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़ करते हुये उसके छह सदस्यों को धर दबोचा। पुलिस सूत्रों ने बताया कि मझोला क्षेत्र स्थित वीके एस पब्लिक स्कूल में यूपी टीईटी परीक्षा के दौरान एसटीएफ की बरेली टीम ने परीक्षा हॉल से दो सॉल्वर को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए दोनों युवक दूसरे परीक्षार्थियों की जगह परीक्षा दे रहें थे। 

सूत्रों ने बताया कि यूपी टीईटी को लेकर अलर्ट एसटीएफ ने सबसे पहले कोतवाली थाना क्षेत्र में चार लोगों को पकड़ा था। उनकी निशानदेही पर एसटीएफ टीम वीके एस पब्लिक स्कूल पहुंची। एसटीएफ द्वारा पकड़े गए छह सॉल्वर मुरादाबाद, अमरोहा और जालौन के रहने वाले हैं। गिरफ्तार अभियुक्तों में एसटीएफ ने परीक्षा देते जो दो आरोपी पकड़े है, उनमें विपिन कुमार निवासी जालौन और राजपाल निवासी अमरोहा के रहने वाले हैं। गिरफ्तार अन्य अभियुक्त सचिन और जितेंद्र मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं, जबकि सौरभ अस्थाना कानपुर और राजकुमार आदमपुर अमरोहा जिले का रहने वाला है।

उन्होने बताया कि मुखबिर से मिली सूचना के बाद सबसे पहले कोतवाली थाना क्षेत्र स्थित होटल महाराजा के बाहर से कार सवार चार युवकों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार युवकों से पूछताछ के बाद एसटीएफ की टीम मझोला क्षेत्र स्थित वीके एस पब्लिक स्कूल पहुंची, जहां परीक्षा दे रहें दो सॉल्वरों को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में सॉल्वर गैंग के सदस्यों द्वारा बारह लाख में परीक्षार्थी की जगह परीक्षा देने की जानकारी मिली है। 

सॉल्वर गैंग के सदस्य परीक्षार्थी से ओरिजनल प्रमाण पत्र लेकर अपने पास रखते थे और टोकन मनी के तौर पर एक लाख रुपये जमा कर लेते थे। गिरफ्तार सदस्यों से उनके अन्य साथियों की जानकारी जुटाई जा रही है। एसटीएफ की कई टीमें जिले में लगातार दबिश दे रहीं है।आरोपियों के पास से एक कार, आधार कार्ड और अन्य दस्तावेज बरामद हुए है जिनकी जांच की जा रही है।
 

Related Stories: