शिरोमणि अकाली दल ने उतारे 2 प्रत्याशी, फिरोजपुर से सुखबीर बादल व बठिंडा से हरसिमरत कौर लड़ेंगी चुनाव

संगरूर (उत्तम हिन्द न्यूज) - लोकसभा चुनावों की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है वैसे-वैसे ही राजनीतिक पार्टियां अपने प्रत्याशी मैदान में उतार रही हैं। लोकसभा हलका बठिंडा और फिरोजपुर से शिरोमणि अकाली दल के दो उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया गया है। पार्टी अध्यक्ष सुखबीर बादल भी चुनाव मैदान में कूद गए हैं। वह फिरोजपुर लोकसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में होंगे, जबकि उनकी पत्नी व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल बठिंडा से चुनाव मैदान में होंगी। वैसे सुखबीर बादल ने कल ही ऐसे संकेत दिए थे। उन्होंने कहा था कि उम्मीदवार फाइनल हैं। पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल अंतिम मुहर लगाएंगे। आज बादल ने सूची पर मोहर लगा दी है। सुखबीर ने कहा कि अकाली दल की ओर से रिकॉर्ड तोड़ विकास करवाया है, जिसका मुकाबला करना कांग्रेस के वश में नहीं होगा। सुखबीर गत दिवस संगरूर शहर के सभी वार्डों के अकाली-भाजपा वर्करों से मिलनी करने के लिए पहुंचे थे।

कैप्टन को खुला चैलेंज- विकास की एक निशानी दिखाएं
उन्होंने कहा, 'मेरा मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को खुला चैलेंज है कि वह अपने दो वर्ष के कार्यकाल के दौरान करवाए गए विकास की मात्र एक निशानी ही उदाहरण के लिए पेश कर दें। कांग्रेस ने विकास नहीं, विनाश ही किया है।

सरकार की कारगुजारी जीरो
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की ओर से खरड़ के गांव चुहार माजरा में पीपल के पेड़ के नीचे चौपाल लगाने पर टिप्पणी करते हुए सुखबीर बादल ने कहा कि कांग्रेस पिछले 70 वर्ष से देश में से बेरोजगारी व गरीबी को दूर कर रही है, लेकिन आज तक नहीं कर पाई। कैप्टन के दो वर्ष के कार्यकाल की बात करें तो सरकार की कारगुजारी जीरो है। पंजाब में चुनाव के दौरान भी लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बिगड़ी हुई है, जबकि कांग्रेस केवल कुंवर विजय प्रताप सिंह के तबादले के मसले को बार-बार उठा रही है।