आतंकियों से लोहा लेने वाले शौर्य चक्र विजेता कामरेड बलविंदर सिंह की हत्या, 2 व्यक्तियों ने घर में घुस कर पिस्टल से किया हमला 

तरनतारन (उत्तम हिन्दू न्यूज): आतंकवाद का बहादुरी से मुकाबला करने वाले कॉमरेड बलविंदर सिंह की आज सुबह तरनतारन में उनके घर पर ही 2 अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी है। सुबह करीब 7 बजे वह घर में थे तभी 2 अज्ञात लोग घर में आए और पिस्टल के साथ हमला कर दिया। यह हमला आतंकी है या फिर कुछ और अभी तक पुलिस कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। 

शौर्य चक्र विजेता कामरेड बलविंदर की गोली मारकर हत्या

बलविंदर सिंह के भाई रंजीत सिंह ने संदेह जताया है कि यह हमला आतंकी भी हो सकता है। हालांकि उनकी सुरक्षा भी कुछ समय पहले वापस ले ली गई थी जिसका बलविंदर सिंह ने विरोध भी किया था। करीब एक साल पहले उन पर अज्ञात लोगों ने हमला भी किया था। जानकारी के अनुसार बलविंदर सिंह घर के समीप ही एक स्कूल भी चलाते थे। 

घटना की जानकारी मिलने के बावजूद पुलिस आधा घंटा देर से पहुंची। हालांकि घटना स्थल के पास ही पुलिस थाना भिखीविंड है। फिलहाल, डीएसपी राजबीर सिंह मौके पर पहुंच चुके थे। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Comrade Balwinder Singh Bhikhiwind booked for rape; He was 'honored' by  Indian President for role against Sikh movement

बता दें कि पंजाब में जब आतंकवाद चरम सीमा पर था तो कॉमरेड बलविंदर सिंह ने आतंकियों का बहुत बहादुरी से मुकाबला किया था। उन पर करीब 20 बार बड़े हमले हुए और हर बार बलविंदर सिंह ने आतंकियों को लोहे के चने चबवाए।कॉमरेड बलविंदर सिंह ने हैंड ग्रेनेड और रॉकेट लांचरों के साथ हमला करने वाले कई नामी आतंकियों को मार गिराया था, जिसके बदले उन्हें 1993 में  राष्ट्रपति की ओर से शौर्य चक्र से नवाजा गया था। उनके जीवन पर कई टेली फिल्में भी बनी थीं। कॉमरेड बलविंदर शौर्य चक्र विजेता थे। परिवार को संदेह है कि यह आतंकी अटैक भी हो सकता है।