शहीद स्मारक को तोड़ किया शहीदों का अपमान

बिलासपुर (सुमन डोगरा) : कांग्रेस ने शहर में बनाए जा रहे शहीद स्मारक पर गम्भीर सवाल उठाए है। कांग्रेस के जिला महासचिव संदीप सांख्यान ने कहा कि जिस प्रकार से शहीद स्मारक को तोड़ा गया वह सीधे सीधे शहीदों का अपमान है। नए शहीद स्मारक के लिए एक्सपेंशन की संभावनाएं क्यों नहीं तलाशी गई। किस के आदेश पर पुराने शहीद स्मारक की तोड़ा गया और किस योजना के तहत नए स्मारक को बनाया जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि किसी चहते को हीरो बनाने के लिए यह कार्य बिना सरकार की मंजूरी से करवाया जा रहा है।  इस अमुल्य धरोहर में अब जिस तरह से गड्ढे पड़े हैं और उनमें बरसात की वजह से जो जल भराव हुआ है लगता है कि डेंगू मच्छर अपना घर अब शहीद स्मारक की जगह बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस नए शहीद स्मारक का क्या प्रारूप होगा और यह कब तक बन के तैयार होगा यह भी एक बड़ा सवाल बना हुआ है। 

इस शहीद स्मारक को जिले के पूर्व काबीना मंत्री व वर्तमान विधायक रामलाल ठाकुर ने बनवाने में भरपूर सहयोग किया था, लेकिन फिर सरकार बदली और उस समय की तत्कालीन भाजपा सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री ने इसका शहीद स्मारक का शुभारंभ किया था लेकिन अब प्रश्न यह उठता है कि क्यों अब भी प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी और प्रदेश के मुख्यमंत्री फिर से दोबारा इस शहीद स्मारक को तुड़वाकर नई बुनियाद रख कर गए है, तो इसके क्या मायने निकाले जाएं, बेहतर तो यह होता कि पुराने शहीद स्मारक जो आस्था को संजोए हुए था में ही नए शहीद स्मारक की एक्सपेंशन की संभावनाएं तलाशी जाती। 

Related Stories: