करोड़ों Android phones की सुरक्षा खतरे में, Qualcomm के प्रोसेसर में आया बड़ा बग- हो सकती है आपकी जासूसी

11:34 AM Aug 09, 2020 |

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): एंड्रॉयड स्मार्टफोन में इस्तेमाल होने वाली क्वालकॉम की स्नैपड्रैगन चिप में 400 से ज्यादा खामियों का पता चला है। इससे दुनियाभर में करीब 300 करोड़ से ज्यादा यूजर्स पर हैकिंग का खतरा मंडरा रहा है। सिंगापुर की एक एजेंसी ने डिजिटल सिग्नल प्रोसेसर चिप में इन खामियों का पता लगाया है। जानकारी मिलने के बाद क्वालकॉम ने भी जांच शुरू कर दी है।

चेकप्वाइंट सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने पड़ताल में पाया कि चिप में 400 से ज्यादा टुकड़े हैं जो निजता के लिए खतरनाक हैं। अगर हैकर इन खामियों का फायदा उठाते हुए सेंधमारी करने में कामयाब रहे तो वो स्मार्टफोन को जासूसी करने के डिवाइस में बदल देंगे और इसका पता भी नहीं चलेगा। हैकर फोटो, वीडियो, कॉल रिकॉर्डिंग, रियल-टाइम माइक्रोफोन डेटा, जीपीएस के साथ-साथ लोकेशन डेटा तक भी अपनी पहुंच बना सकते हैं। आपका फोन फ्रीज कर सकते हैं, जिससे आपके फोन में उपलब्ध सारा डेटा उस समय मौजूद रहेगा और वो इसका इस्तेमाल कर सकेंगे। हैकर इनके जरिए मालवेयर इंस्टॉल कर सकते हैं जिन्हें कभी हटाया नहीं जा सकता।

दुनियाभर में मौजूद करीब 40 फीसदी स्मार्टफोन में इस तरह की चिप इस्तेमाल की जाती है। ये चिप अलग-अलग मूल्यों में और अलग-अलग श्रेणियों में उपलब्ध हैं। गूगल, सैमसंग, एलजी, शाओमी जैसे बड़े ब्रांड के प्रीमियम स्मार्टफोन में भी इस तरह की चिप लगाई जाती है। हालांकि, एप्पल आईफोन में ऐसी चिप का इस्तेमाल नहीं होता।

क्वालकॉम ने भी इस रिपोर्ट के बारे में बयान जारी किया। कंपनी ने बताया कि चेकप्वाइंट द्वारा खोजी गई कमियों को हमने परखा और इससे जुड़ी कार्रवाई की है। हमारे पास ऐसा कोई सबूत नहीं कि इन खामियों का फायदा उठाया गया था। हम यूजर्स से अपना डिवाइस अपडेट करने को कह रहे क्योंकि सिक्योरिटी पैच उपलब्ध हो चुका है। साथ ही उनसे गूगल प्ले स्टोर जैसी भरोसेमंद जगहों से एप्लिकेशन इंस्टॉल करने की बात कहते हैं।