Wednesday, February 20, 2019 05:43 PM

सैनी को संकट मोचक हनुमान पुरस्कार

बीकानेर (उत्तम हिन्दू न्यूज) : राजस्थानी के प्रख्यात लेखक, संपादक डॉ. मदन सैनी को धानुका सेवा ट्रस्ट फतेहपुर शेखावाटी की ओर से प्रथम संकट मोचक हनुमान पुरस्कार’ से सम्मानित किया जाएगा। साहित्यकार डा. नीरज दईया ने आज यहां बताया कि संस्था द्वारा साहित्य और अध्यात्म के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान के लिये यह पुरस्कार-सम्मान आरम्भ किया गया है। इसके तहत डॉ सैनी को 11 हजार रुपये प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सैनी का चयन उनके द्वारा रचित श्रीराम भक्त हनुमान जी की संपूर्ण कीर्ति कथा ‘हनुमत-गाथा’ कृति के लिए किया गया है।

यह पुरस्कार उन्हें 10 सितम्बर को त्रिवेणी सभागार, फतेहपुर में आयोजित समारोह में प्रदान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मई 1958 को जन्मे डॉ. मदन सैनी की कई कृतियां हिंदी और राजस्थानी में प्रकाशित हुई हैं। उन्हें साहित्य अकादमी, नई दिल्ली से अनुवाद पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। इसके अलावा उन्हें राजस्थानी भाषा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी बीकानेर सहित कई पुरस्कारों, मान-सम्मानों से सम्मानित किया जा चुका है।

देश की सबसे बड़ी और तेज WhatsApp News Service से जुड़ने के लिए हमारे नंब 7400043000 पर Missed Call दें। इस नंबर को Save करना मत भूलें।