शिअद का सुखदेव ढींडसा पर पलटवार, कहा-हमारा नाम चुराकर कांग्रेस के इशारे पर गैरकानूनी काम किया 

08:17 PM Jul 07, 2020 |

चंडीगढ़ (उत्तम हिन्दू न्यूज)-शिरोमणि अकाली दल (शिअद) प्रवक्ता डॉ़ दलजीत सिंह चीमा ने आज आरोप लगाया कि सुखदेव सिंह ढींडसा ने अपनी नई पार्टी को शिअद का नाम देकर गैरकानूनी कार्य किया है और ऐसा उन्होंने कांग्रेस के निर्देश पर ‘साजिश‘ के तहत किया है जो कभी सफल नहीं होगी। यहां संवाददाता सम्मेलन में शिअद उपाध्यक्ष डॉ़ चीमा ने कहा, “एक मोहल्ला स्तर की बैठक कर कोई सौ साल पुरानी पार्टी की जगह लेने का दावा नहीं कर सकता।“ उन्होंने कहा कि नई पार्टी बनाना ढींडसा का लोकतांत्रिक अधिकार है लेकिन उनकी आपत्ति पार्टी को शिरोमणि अकाली दल का नाम देने पर है।

डॉ़ चीमा ने कहा कि ढींडसा शिअद का हिस्सा रह चुके हैं। वह जानते हैं कि पार्टी का संविधान, ढांचा होता है और उसके पदाधिकारी व अध्यक्ष सदस्य चुनते हैं इसलिए ढींडसा के कद के व्यक्ति को ऐसी हरकत शोभा नहीं देती।“ शिअद प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि ढींडसा ने यह कांग्रेस के इशारे पर किया है। डॉ़ चीमा ने यह भी आरोप लगाया कि ढींडसा ने शिअद (टकसाली) अध्यक्ष रंजीत ब्रह्मपुरा के साथ भी गलत किया है क्योंकि ढींडसा ने ब्रह्मपुरा के अस्पताल से छुट्टी पाने का इंतजार नहीं किया और शिअद (टकसाली) के अध्यक्ष बनाये जाने के उनके प्रस्ताव को भी ठुकराया। डॉ़ चीमा ने आरोप लगाया कि ढींडसा गुट व आम आदमी पार्टी कांग्रेस के सोशल मीडिया एजेंट बन चुके हैं और दोनों पार्टियां कांग्रेस के इशारे पर शिअद के खिलाफ बड़ा गठजोड़ बनाना चाहती हैं पर लोग इस साजिश को समझ सकते हैं और दोनों को खारिज कर देंगे।