केरल के शहीद जवान के परिवार को 25 लाख रुपये, घर व नौकरी

तिरुवनंतपुरम (उत्तम हिन्दू न्यूज): पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले में शहीद हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के हवलदार वी.वी. वसंत कुमार के परिवार को मुआवजे के तौर पर 25 लाख रुपये नकद, एक नया घर, एक स्थायी सरकारी नौकरी और दोनों बच्चों को निशुल्क शिक्षा दिए जाने की घोषणा मंगलवार को की गई। केरल के मुख्यमंत्री पिनारई विजयन ने साप्ताहिक कैबिनेट बैठक के बाद यहां मीडिया को यह जानकारी दी। विजयन ने कहा, मुआवजे की धनराशि में से 15 लाख रुपये वंसत कुमार की पत्नी को दिए जाएंगे जबकि 10 लाख रुपये उनकी मां को दिए जाएंगे। वर्तमान में वंसतकुमार की पत्नी वायनाड में राज्य द्वारा संचालित पशु चिकित्सा कॉलेज में अस्थायी पद पर सहायक के रूप में काम कर रहीं हैं।

विजयन ने कहा, इसे एक स्थायी नौकरी में बदल दिया जाएगा। दोनों बच्चों की शिक्षा की देखरेख अब केरल सरकार करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा, आज वसंत कुमार की पत्नी और बच्चे उनके पिता द्वारा निर्मित घर में रहते हैं और उस घर के अन्य दावेदार भी हैं। इसलिए, पत्नी और बच्चों के लिए एक नया घर बनाने का फैसला लिया गया है। वसंत कुमार (40) के परिवार में उनकी मां, पत्नी और दो बच्चे आठ साल की बेटी और एक चार साल का बेटा हैं। उन्होंने सेना में 18 साल की सेवा पूरी कर ली थी और वह दो साल के अंदर रिटायर होने वाले थे।
 

Related Stories: