फूट-फूट कर रोई विकास दुबे की पत्नी रिचा, पुलिस से बस एक बार चेहरा दिखाने की लगाई गुहार

कानपुर (उत्तम हिन्दू न्यूज): हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के एनकाउंटर की खबर मिलते ही उसकी पत्नी रिचा दुबे फूट-फूट कर रोने लगी। खबरों के मुताबिक, हालांकि पुलिस ने रिचा को यह नहीं बताया कि विकास का एनकांउटर हो गया है, लेकिन पुलिसकर्मियों के बर्ताव से रिचा को अहसास हो गया कि उसका पति अब इस दुनिया में नहीं है। इसके बाद रिचा फूट-फूट कर रोने लगी। वह पुलिसकर्मियों से यही कहती रही कि बस एक बार विकास का चेहरा दिखा दो।

बता दें कि गुरुवार शाम एसटीएफ ने लखनऊ के कृष्णानगर से रिचा और और उसके बेटे को पकड़ा था। एसटीएफ कानपुर में किसी अज्ञात स्थान पर रिचा से पूछताछ कर रही थी। वहीं विकास दुबे गुरुवार सुबह मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर से पकड़ा गया था। मध्य प्रदेश पुलिस ने विकास को यूपी एसटीएफ के हवाले किया था। एसटीएफ का काफिला विकास को लेकर कानपुर आ रहा था। इसी दौरान एक एसटीएफ की गाड़ी पलट गई। मौके का फायदा उठाकर विकास ने पुलिसकर्मी की पिस्टल छीनकर भागने का प्रयास किया। पुलिस ने जब उससे रुकने को कहा तो उसने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। पुलिस की जवाबी फायरिंग में विकास मारा गया।
Shopkeeper outside Mahkal temple tipped off security guards about ...

कानपुर शूटआउट के बाद से फरार चल रहा कुख्यात विकास दुबे गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर से पकड़ा गया था। यूपी एसटीएफ और पुलिस की टीम उसे लेकर लौट रही थी, जब उसने शुक्रवार की सुबह भागने की कोशिश की। जवाबी फायरिंग में गोली लगी औप उसने दम तोड़ दिया।

कानपुर हाइवे पर मारा गया था प्रभात मिश्रा
विकास दुबे के एक अन्य साथी प्रभात मिश्रा को पुलिस ने कानपुर हाइवे पर मुठभेड़ में मार गिराया था। प्रभात मिश्रा को फरीदाबाद से गिरफ्तार करने के बाद पुलिस टीम कानपुर लेकर आ रही थी। इसी दौरान पुलिस की गाड़ी खराब हो गई और सडक़ पर वाहन रुकते ही प्रभात ने पिस्टल छीनकर भागने का प्रयास किया। इसके बाद जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने उसे मार गिराया।

Now Vikas' wife Richa Dubey also 'most wanted' - Sentinelassam
हमीरपुर में शॉर्प शूटर अमर दुबे को किया ढेर
विकास दुबे के शार्प शूटर अमर दुबे को पुलिस ने हमीरपुर के मौदहा कोतवाली इलाके में मार गिराया है। ये मुठभेड़ बुधवार को हुई थी। अमर दुबे हमीरपुर में अपने रिश्तेदार के घर पर छिपने आया था, इसी दौरान पुलिस ने उसे घेरकर सरेंडर करने के लिए कहा। हालांकि अमर ने इस दौरान पुलिस पर फायरिंग की जिसके बाद उसे मार गिराया गया।

इटावा में ढेर हुआ बउवन दुबे
गैंगस्टर विकास दुबे गैंग का एक और बदमाश रणवीर उर्फ बउअन दुबे पुलिस से मुठभेड़ के दौरान मारा गया। थाना सिविल लाइन क्षेत्र से स्विफ्ट डिजायर गाड़ी लूटकर भाग रहे बदमाश को पुलिस और स्वाट टीम ने घेराबंदी कर मार गिराया।

चचेरा भाई भी मारा जा चुका
विकास दुबे के एक खास आदमी अतुल दुबे को भी मुठभेड़ में मार गिराया गया था। अतुल रिश्ते में विकास का चचेरा भाई था और बिकरू गांव में ही रहता था। अतुल दुबे के बेटे के भी पुलिसकर्मियों पर हुए हमले में शामिल होने की बात कही जा रही है। तीन जुलाई की सुबह विकास दुबे के मामा प्रेम प्रकाश को पुलिस ने कानपुर में हुई एक मुठभेड़ में मार गिराया था। प्रेम प्रकाश के एनकाउंटर के बाद पुलिस ने उनका अंतिम संस्कार कराया था। पुलिस का कहना है कि प्रेम प्रकाश विकास के साथ वारदात में शामिल थे। हालांकि प्रेम प्रकाश के परिवार ने उन्हें बेकसूर बताया है। इस एनकाउंटर में नवाबगंज इंस्पेक्टर रमाकांत पचौरी समेत तीन लोग घायल हो गए। घायलों को पहले कल्यानपुर सीएचसी भेजा गया। प्राथमिक उपचार के बाद पुलिसकर्मियों को हैलट अस्पताल के रेफर कर दिया गया।