1000 करोड़ के हवाला रैकेट में खुलासा, रोज 3 करोड़ निकालता था चीनी नागरिक- मणिपुर की लड़की से की थी शादी

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): चीन के नागरिक द्वारा भारत में रहकर चलाए जा रहे हवाला कारोबार को लेकर एक के बाद एक कई खुलासे हो रहे हैं। इस मामले में आयकर विभाग की पूछताछ में यह सामने आया कि लोउ सांग भारत में अपनी पहचान बदलकर रह रहा था, उसने मणिपुर की एक लड़की से शादी भी की हुई है। मंगलवार को ही आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी कर करीब 1000 करोड़ रुपये के हवाला कारोबार का भांडा फोड़ दिया। 

it department searches premises of chinese entities, चीनी संस्थाओं पर IT रेड, 1000 करोड़ का हवाला-मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट, लुओ सैंग नाम का शख्‍स हिरासत में

आयकर विभाग की छानबीन में सामने आई बड़ी जानकारी 
संदिग्ध लोउ सांग, अपनी पहचान बदल कर भारत में रह रहा था। वह चार्ली पैंग बन गया था और खुद को भारतीय नागरिक बताता था। उसके बाद भारत का फर्जी पासपोर्ट और आधार कार्ड है, चार्ली ने मणिपुर की लड़की से शादी की। हवाला के जरिए लोउ हर रोज तीन करोड़ रुपये निकालता था, इसमें उसकी मदद बंधन बैंक और ICICI बैंक के अधिकारी करते थे। चीनी संदिग्ध के पास करीब 40 बैंक अकाउंट हैं। ये घोटाला करीब तीन साल से चल रहा था, जिसमें फर्जी कंपनियां बनाई गईं। घोटाले की कुल कीमत एक हजार करोड़ का आंकड़ा पार कर सकती हैं। आरोपी की ओर से बार-बार पता बदल दिया जाता था, पहले वो दिल्ली के द्वारका में रुका था और फिर डीएलएफ इलाके में। 

News Magazine Entertainments, Fun, Jokes, Health, ETC Hindi Portal
आपको बता दें कि खुफिया एजेंसियों की जानकारी के आधार पर IT की टीम ने दिल्ली, गाजियाबाद और गुरुग्राम में चीनी नागरिकों के 21 ठिकानों पर छापेमारी की थी। अब तक आयकर विभाग को 300 करोड़ के हवाला लेनदेन का पता चला है, लेकिन विभाग के मुताबिक ये रकम एक हजार करोड़ से ज्यादा की हो सकती है।