RBI मई में खरीदेगा 25000 करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियां

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): देश में तरलता के संकट को देखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक ने मंगलवार को कहा कि वह अगले महीने 25,000 करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियां खरीदेगा, जो 12,500 करोड़ रुपये की दो नीलामी के माध्यम से खरीदी जाएगी।

आरबीआई बाजार में मुद्रा की आपूर्ति को नियमित करने के लिए सरकारी प्रतिभूतियों (जी-सेक्स) की खरीद या बिक्री ओपन मार्केट ऑपरेशंस (ओएमओज) के द्वारा करता है। जी-सेक्स की खरीद या बिक्री से तरलता बढ़ती या घटती है। रेपो रेट, कैश रिजर्व रेशियो और वैधानिक तरलता रेशियो जैसे ओएमओज मौद्रिक नीति के उपकरण हैं, जो मुद्रास्फीति को संतुलित करते हैं। 

शीर्ष बैंक ने कहा, "बढ़ते तरलता संकट और टिकाऊ तरलता जरूरतों के मूल्यांकन के आधार पर आरबीआई ने मई 2019 में 25,000 करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियों को खरीदने का फैसला किया है, जो दो 12,500 करोड़ रुपये की नीलामी के माध्यम से खरीदी जाएंगी।" बैंक ने कहा, "12,500 करोड़ रुपये की पहली नीलामी दो मई को होगी। दूसरी नीलामी की तिथि की घोषणा अभी नहीं की गई है।"