त्योहारों में गड़बड़ी फैलाने वालों पर लगेगी रासुका

गोंडा (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तर प्रदेश के गोण्डा में त्योहारों में गड़बड़ी फैलाने वाले आसामाजिक तत्वों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की जायेगी। 

जिलाधिकारी कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव ने शनिवार को कहा कि कजरी तीज , मोहर्रम और गणेश पूजा के दौरान गड़बड़ी फैलाने वाले असामाजिक तत्वों पर रासुका लगेगा। जिला पंचायत सभागार में आयोजित जिला स्तरीय शांति कमेटी की एक बैठक को संबोधित करते हुये श्री श्रीवास्तव ने कहा कि दैवीय प्रकोप के कारण उत्पन्न समस्याओं पर धैर्य , संवेदनशीलता रखकर त्यौहार मनाये। श्रद्धा ह्रदय में रखे। उत्तेजना में दिखावा कर एक दूसरे की भावनाओ को आहत करने वाले कार्य कतई न करें।

उन्होने कावडियो , ताजिया और गणेश प्रतिमा विसर्जन के रास्ते में खराब सड़को की मरम्मत में लापरवाही बरतने पर लोक निर्माण विभाग , ग्रामीण अभियंत्रण सेवा के अधिकारियों को जमकर फटकार लगायी। उन्होने कहा कि शरारती , उपद्रवी तत्वों को चिन्हित कर सूचीबद्ध किया गया है। ताजिया की ऊंचाई परम्परागत त्यौहार रजिस्टर में दर्ज मानक के मुताबिक ही रहनी चाहिये अन्यथा ताजियादारान को तलब कर कार्रवाई की जायेगी। 

बिजली,सफाई,सड़क,स्वास्थ्य शिविर,खोया पाया विभाग,लाउडस्पीकर,यातायात,रूट डायवर्जन,अग्निशमन दल, महिला पुलिस की जवान और अन्य सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किये गये है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि इस बार कजरी तीज पर कर्नलगंज तहसील क्षेत्र के सरयू नदी से जलभर कर नगर के दुःखहरण नाथ मंदिर व खरगूपुर के पृथ्वीनाथ मंदिर पर जलाभिषेक करने वाले कावडियो की भारी भीड़ और उनकी सुरक्षा के लिये नागरिक पुलिस , पी ए सी के संग राज्यीय आपदा मोचन बल के जवानों को भी लगाया गया है।

उन्होने बताया कि मंदिरो के गिर्द गिर्द करीब पांच सौ मीटर की परिधि में किसी प्रकार की मेले की दुकानें नहीं लगाने दी जाएंगी। इन दुकानों के लिये रास्ते के अगल बगल स्थित मैदानों को चिन्हित किया गया है। जिले के संवेदनशील और अति संवेदनशील धार्मिक स्थलों पर जवानों के साथ साथ स्वयं सेवी संगठनों को भी लगाया है। 

Related Stories: