रेप केस के गवाह दलित युवक से हैवानियत, पहले बेरहमी से पीटा फिर किया ये खौफनाक काम

07:43 PM Jun 25, 2019 |

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): राजस्थान से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक रेप केस मेंगवाह दलित युवक का कुछ बदमाशों ने अपहरण कर लिया और उसे गांव के जोहड़ में ले जाकर उसकी बेरहमी से पिटाई की। पिटाई करने के बाद भी जब बदमाशों का मन नहीं भरा तो आरोपियों ने पीडि़त युवक की जुबान भी खींचकर मरोड़ दी ताकि वह युवक रेप केस में गवाही ना दे सके। मिली जानकारी के अनुसार दिल दहला देने वाली यह घटनाराजस्थान के चूरू जिले के साहवा थाना इलाके की है।

यहां करीब आधा दर्जन बदमाश  शीशपाल (22) नाम के एक युवक का अपहरण कर उसे गांव के जोहड़ में ले गए. वहां उसके हाथ-पांव बांधकर लाठियों और धारदार हथियार से बेरहमी से उसकी पिटाई की। पिटाई करने के बाद बदमाशों ने उसकी जुबान (जीभ) खींचकर उसे मरोड़ दिया। जिससे युवक बेहोश हो गया, आरोपी युवक को जोहड़ की गहराई में फेंककर फरार हो गए। पीडि़त युवक सारी रात बेहोशी की हालत में जोहड़ में पड़ा रहा। जब सुबह ग्रामीण शौच के लिए निकले तो उसे वहां इस हालत में देख उसके परिजनों को सूचना दी।

जिसके बाद पीडि़त युवक को साहवा के अस्पताल ले जाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद तारानगर रेफर कर दिया गया। तारानगर में भी युवक की गंभीर हालत को देखते हुए से उसे चूरू जिला मुख्यालय रेफर कर दिया गया, जहां युवक का इलाज चल रहा है।जुबान मरोड़ी हुई होने के कारण पीडि़त युवक बोलने की स्थिति में नहीं है, लेकिन उसने कागज पर लिखकर अपनी आपबीती बयां की है। पीडि़त ने बताया कि वर्ष 2017 में श्योपुरा गांव की एक विवाहिता के साथ हुए रेप के मामले मे वह और उसका चाचा श्यामलाल गवाह है और उससे मारपीट करने वाले आरोपियों में इस रेप कांड का आरोपी भी शामिल हैं। अस्पताल की चौकी पुलिस ने मामले की जानकारी साहवा पुलिस को दे दी है, फिलहाल अभी तक इस संबंध में कोई मामला दर्ज नहीं हो पाया है।