राकेश टिकैत को मिली जान से मारने की धमकी, फोन कॉल पर गाली-गलौज और अभद्र मेसेज भेजकर परेशान कर रहा युवक

लखनऊ (उत्तम हिन्दू न्यूज): तीनों कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे आंदोलन का नेतृत्व करने वाले भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत को एक युवक ने फोन पर जान से मारने की धमकी दी है। वह व्हाट्सएप पर मैसेज भेजकर अभद्रता कर रहा है। भाकियू के एक सदस्य ने थाने में शिकायत दर्ज दी गई है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। लोनी निवासी विपिन कुमार भारतीय किसान यूनियन के सदस्य हैं। उन्होंने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि करीब एक माह से भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत को एक मोबाइल नंबर से कॉल आ रही है।

सरकार आमंत्रित करती है तो किसान वार्ता के लिए तैयार, मांग में कोई बदलाव  नहीं: राकेश टिकैत - India TV Hindi News

कॉल करने वाला गाली-गलौज कर रहा है। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दे रहा है। इसके साथ ही व्हाट्सएप पर भी मेसेज भेजकर अभद्रता कर रहा है। काफी समय से भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत ने समझाया और नजरअंदाज भी किया, लेकिन वह लगातार कॉल कर अभद्रता और धमकी दे रहा है। घटना के बारे में उन्हें जानकारी हुई। इसके बाद उन्होंने मोबाइल नंबर और मेसेज के फोटो खींचकर कौशांबी थाने में तहरीर दी। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। पुलिस की अब तक की जांच में सामने आया है कि आरोपी की मोबाइल की लोकेशन आगरा मंडल के फिरोजाबाद की है।

Big Setback For Rakesh Tikait: Read how the Bhartiya Kisan Union lost  public confidence Jagran Special

पुलिस नंबर की डिटेल निकलवा रही है । पीड़ित की तहरीर पर आईटी एक्ट और धमकी देने के मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। जल्द आरोपी को पकड़ा जाएगा। यूपी गेट पर 27 नवंबर से कृषि कानूनों के विरोध में किसानों ने धरना शुरू किया था। 26 दिसंबर को राकेश टिकैत को एक नंबर से कॉल आई थी। कॉल करने वाले ने धमकी दी थी। अर्जुन बालियान की ओर से कौशांबी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके बाद से राकेश टिकैत की सुरक्षा भी बढ़ाई गई थी। कौशांबी पुलिस ने कॉल करने वाले मानव मिश्रा निवासी भागलपुर बिहार को पकड़कर कोर्ट में पेश किया था।