तिरंगे की आन, बान और शान सदा कायम रखेंगे: राजनाथ सिंह

07:00 PM Aug 14, 2019 |

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज)-रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना आज कहा कि पड़ोसी देश जम्मू-कश्मीर पर बराबर बुरी निगाह लगाए रखता है और आतंकवादी भेजकर घाटी में शांति भंग करने की कोशिश में रहता है लेकिन तिरंगे की आन, बान और शान कायम रखने के सेनाओं के संकल्प ने हर बार उसकी नापाक साजिशों को नाकाम किया है। 
सिंह ने 73 वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आज सैनिकों को संबोधित करते हुए कहा कि सशस्त्र सेनाओं के जवान मातृ भूमि की रक्षा में अपने प्राणों की बाजी लगा देते हैं और आज का दिन उनकी कुर्बानी को याद करने का है। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर वह राष्ट्र की रक्षा में अपने प्राणों की आहुति देने वाले उन वीर सपूतों के परिवारजनों के प्रति भी कृतज्ञता व्यक्त करते हैं और यह बताना चाहते हैं कि कृतज्ञ राष्ट्र उनके इस सर्वोच्च बलिदान के लिए उनका सदैव ऋणी रहेगा।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान निरंतर आतंकवादी भेजकर जम्मू कश्मीर में शांति भंग करने के लिए साजिश रचता रहता है। सेनाओं ने उसकी साजिश का हर बार मुंह तोड़ जवाब दिया है और पुलवामा हमले के बाद भी सेनाओं ने सीमा पार कर वहां बने आतंकवादियों के ठिकानों तथा लांच पैड को नेस्तनाबूद कर दिया। 

रक्षा मंत्री ने आज कहा कि बदलते वैश्विक परिदृश्य में अब लड़ाई केवल जल, थल और वायु तक ही सीमित नहीं रहेगी बल्कि इसका दायरा अंतरिक्ष और साइबर स्पेस तक बढेगा इसलिए सरकार सेनाओं की जरूरतों को पूरा करने के लिए हर संभव कदम उठायेगी। उन्होंने कहा ,“ मैं आपको यह विश्वास दिलाना चाहता हूँ कि सरकार आपके मनोबल को बढ़ाने और आपकी व्यावहारिक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएगी। प्रधानमंत्री के सक्षम नेतृत्व में हमारी सशस्त्र सेनाओं का तेज़ी से आधुनिकीकरण किया जा रहा है। सशस्त्र सेनाओं के तीनों अंगो के बीच भागीदारी के उनके सपने को पूरा करने के लिए हम अथक प्रयास कर रहे हैं।”