किसानों का रेल रोको आंदोलन आज, रेलवे ने कई ट्रेनें की रद्द- पंजाब-हरियाणा में RPSF की 20 अतिरिक्त कंपनियां तैनात

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): सरकार और आंदोलनकारी किसानों के बीच अब तक 10 से ज्यादा बार बात हो चुकी है, लेकिन नतीजा हर बार जीरो ही रहा है। इसी बीच किसानों ने आंदोलन को और तेज करते हुए आज रेल रोको आंदोलन का आह्वान किया हुआ है। किसान आज दोपहर 12 से 4 बजे तक रेल रोको आंदोलन करेंगे जिसके चलते रेलवे ने अपनी खास तैयारियां की हैं।

Rail Roko Andolan LIVE: किसानों का रेल रोको आंदोलन आज, रेलवे पूरी तरह अलर्ट पर

इंडियन रेलवे ने किसानों के रेल रोको आंदोलन को देखते हुए आज कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है, वहीं कुछ के रूट में परिवर्तन किया है। रेल रोको आंदोलन का मकसद कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए सरकार पर दबाव बनाना है जिसको लेकर रेलवे भी अलर्ट है। जीआरपी और आरपीएफ के जवानों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। 

रेलवे ने RPSF की 20 अतिरिक्त कंपनियों को तैनात किया है। ये कंपनियां विशेष तौर पर पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में तैनात रहेंगी, जहां रेल रोको आंदोलन का सबसे ज्यादा असर पड़ने की संभावना है। रेलवे अधिकारियों को लोकल स्तर पर राज्य सरकार और स्थानीय डीएम और एसपी के संपर्क में रहने के निर्देश दिए गए हैं।

Image result for RPSF

दरअसल, नए कृषि कानूनों के खिलाफ आज संयुक्त किसान मोर्चा दोपहर 12 से लेकर शाम 4 बजे तक देशव्यापी रेल रोको आंदोलन करेगा। इस दौरान देशभर में हजारों किसान रेल की पटरियों पर बैठेंगे। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत इसे रेल रोको नहीं बल्कि रेल खोलो आंदोलन बता रहे हैं।

किसानों के रेल रोको आंदोलन के चलते ऐहतियातन रेलवे ने बुधवार से ही पंजाब में कई ट्रेनों को रद्द कर दिया था और साथ ही कई ट्रेनों के रूट भी बदले गए हैं। इससे पहले पंजाब में भी किसानों ने सितंबर में रेल रोको आंदोलन किया था जिसकी वजह से पंजाब में करीब दो महीने तक ट्रेनों की आवाजाही प्रभावित हुई थी।