Monday, May 20, 2019 04:05 PM

बेअदबी कांड के दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई : राहुल गांधी

रवनीत बिट्टू और मोहम्मद सदीक के पक्ष में कांग्रेस अध्यक्ष ने रैली को किया संबोधित
छोटे उद्योगों को पंजाब में फिर से करेंगे पुनर्जीवित
कहा, हर मोर्चे पर फेल हुई है मोदी सरकार

फरीदकोट/लुधियाना (सचदेवा) : 
लोकसभा चुनाव लड़ रहे कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में रैलियां करने आए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज शिरोमणि अकाली दल भाजपा गठबंधन पर बरसते हुए कहा कि बेअदबी मामलों और बरगाड़ी घटना के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि ऐसे जुर्म करने वालों को कभी माफ नहीं किया जाएगा। फरीदकोट से कांग्रेस उम्मीदवार मुहम्मद सदीक और लुधियाना से रवनीत सिंह बिट्टू के समर्थन में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के साथ रैलियों को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर भी तीखे हमले किए। 

प्रधानमंत्री द्वारा सिर्फ उनके द्वारा ही देश को चला सकने के किए जा रहे दावों के संबंध में राहुल गांधी ने मोदी से पूछा,''तब आप कहां थे जब पंजाब के किसानों ने हरित क्रांति लाई?'' उन्होंने कहा कि भारत के लोग अपने खून पसीने से देश को चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस, देश के विकास के लिए जाति, धर्म, भाईचारे की जगह हर भारतीय को अपने साथ लेने में विश्वास रखती है। रोजगार सृजन और किसानों की भलाई को ही कांग्रेस की मुख्य प्राथमिकता बताते हुए राहुल गांधी ने लुधियाना के लोगों के साथ वादा किया कि उनकी पार्टी छोटे और मध्यम व्यापार को पुनर्जीवित करेगी। उन्होंने कहा कि 'मेड इन लुधियाना' से बिना भारत चीन को चुनौती नहीं दे सकता। 'मेड इन लुधियाना', 'मेक इन इंडिया' का अभिन्न हिस्सा होगा। कांग्रेस के चुनाव मैनीफैस्टो में नौजवानों के रोजगार का वादा और किसानों के लिए अलग बजट का वादा करते हुए राहुल गांधी ने 'न्याय' की चर्चा करते हुए कहा कि मोदी सरकार न केवल सभी मोर्चों पर असफल हो चुकी है बल्कि इसने मुट्ठी भर अमीर उद्योगपतियों की मदद के लिए आम लोगों की जेबों में से पैसा चोरी किया है। इन मुट्ठी भर अमीर उद्योगपतियों में से कुछ तो देश छोड़ कर ही भाग गए हैं जिनको करोड़ों रुपए के ऋणी होने के बावजूद जेलों में नहीं डाला गया।

उन्होंने कहा कि पूर्व पीएम डा. मनमोहन सिंह और उनकी प्रगतिशील आर्थिक नीतियों का मज़ाक बनाने वाला मोदी पाँच सालों में ही एक लतीफ़ा बन गया है।  न्याय' के लिए कोई भी फंड न होने के मोदी के दावों के उलट राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस अनिल अम्बानी, नीरव मोदी, ललित मोदी, विजय मालिया, चौकसी आदि जैसे चोरों के पास से धन वापस लाएगी।

कांग्रेस प्रधान ने राफेल सौदा और इस पर बहस के लिए उनकी चुनौती न कबूलने समेत नोटबन्दी जैसे वित्तीय दिवालियापन जैसे मुद्दों पर मोदी को आड़े हाथों लिया। उन्होंने प्रधानमंत्री की 'निजी' इंटरव्यू की खिल्ली उडायी जिसमें वह बिना सिर-पैर की बातें करते हैं जैसे उन्होंने आम कैसे खाए और वह अपने अटैची में कपड़े कैसे फिट करते हैं। उन्होंने कहा कि नोटबन्दी का मकसद काला धन ख़त्म करना नहीं था बल्कि लुधियाना और अन्य स्थानों पर छोटी और मध्यम दर्जे के उद्योग को तबाह करना था। उन्होंने कहा,''मैं प्रधानमंत्री की नफरत का मुकाबला प्यार के साथ करूंगा क्योंकि यह हमारे डी.एन.ए. में है और प्यार का यही संदेश श्री गुरु नानक देव जी ने दिया।''

वित्तीय संकट के बावजूद हमने किसानों के कर्ज किए माफ : अमरिंदर
वहीं अपने संबोधन में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने लोगों पर यह फ़ैसला छोड़ते हुए कहा कि क्या वह मौजूदा प्रधानमंत्री चाहते हैं जो अकालियों वाली सोच रखता है और लोगों का ध्रुवीकरण करके मुल्क की धर्म निष्पक्ष नैतिक मूल्यों को तबाह करने पर तुला हुआ या फिर कोई अन्य प्रधानमंत्री हो जो हर धर्मों और जाति के लोगों का भारतीयों के तौर पर सत्कार करे।  मुख्यमंत्री ने पंजाब की आर्थिकता का भठ्ठा बिठाने के लिए अकालियों की सख्त आलोचना की जबकि उनकी सरकार सीमित साधनों के बावजूद वित्तीय स्थिति को फिर मजबूत बनाने की कोशिशें कर रही है। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि वित्तीय संकट के बावजूद उनकी सरकार ने किसानों के लिए कजऱ् माफी स्कीम चालू की और पंजाब एक ही एैसा राज्य है जहाँ किसानों का 2-2 लाख रुपए का कजऱ् माफ किया गया है। उन्होंने अपनी माँग को दोहराते हुए कहा कि खेती को लाभप्रद बनाने का एकमात्र हल एम.एस. स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को हू-ब -हू लागू करना है।
 

 

देश की सबसे बड़ी और तेज WhatsApp News Service से जुड़ने के लिए हमारे नंब 7400023000 पर Missed Call दें। इस नंबर को Save करना मत भूलें।