केंद्र सरकार के खिलाफ ट्रैक्टरों में निकाली रोष रैली

तलवाड़ा (पवन शर्मा): किसान मोर्चा भंगाला की अगुवाई में किसान संघर्ष कमेटी ,किसान-मजदूर हितकारी सभा ,पगड़ी संभाल जट्टा लहर व अन्य किसान संगठनों द्वारा केन्द्र सरकार द्धारा जारी किसान विरोधी तीन अध्यादेशों,बिजली शोध बिल 2020 को रद्द करना, पंजाब सरकार द्धारा बढ़ाए तेल के भाव एवं पंचायतों की हजारों एकड़ भूमि को कारपोरेट कम्पनियो को देने के फैसले खिलाफ काली झंडिया लगा ट्रैक्टरों में रोष रैली निकाली, जो कस्बा भंगाला से आरम्भ होकर मुकेरियां से होते हुए नौशहरा पतन में समाप्त हुई। रोष रैली को आम आदमी पार्टी ने भी समर्थन दिया। आप हल्का प्रधान मुकेरियां प्रो जी एस मुल्तानी ,सुलखन सिंह जग्गी, ओंकार सिंह पुराना भंगाला, बलकार सिंह मल्ली आदि ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार की किसान विरोधी नीति देश के भविष्य एवं किसानों के लिए एक बड़ा ख़तरा है ।

कोरोना महामारी की आड़ में मुद्दों पर विचार किए बिना देश के किसानों पर अध्यादेश थोप देना स्पष्ट रूप से किसानों के साथ धोखा है। उन्होंने कहा कि ऐसा कर केंद्र सरकार ने संसद की अवहेलना करके और राज्य के अधिकारों के मुद्दे पर अध्यादेश जारी करके लोकतंत्र और देश के संघीय ढांचे का उल्लंघना की है। इस कानून का सबसे अधिक नुकसान छोटे किसानों को होगा। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि इस काले कानून को समाप्त किया जाये। उन्होंने अपनी मांगों संबंधी ज्ञापन एसडीएम के माध्यम से केंद्रीय कृषि मंत्री के नाम भेजाष इस समय सतनाम सिंह बगडिय़ा, गुरनाम सिंह, हरदीप सिंह, सजन सिंह, रछपाल सिंह, जगजीत सिंह, अर्जन सिंह, निर्मल सिंह, शमिंदर सिंह, दर्शन सिंह, बलजीत सिंह निट्टा, हरजीत सिंह सहोता, रजिन्द्र सिंह आदि उपस्थित थे।