कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब कांग्रेस का हल्ला बोल 

पंजाब कांग्रेस भवन से राजभवन की तरफ रोष निकाला मार्च, पुलिस ने बैरिकेडिंग कर रोका तो रास्ते में ही लगाया धरना
केंद्र सरकार का अहंकार देश की संवैधानिक संस्थाओं के लिए चुनौती : जाखड़ 
चंडीगढ़ (विज):
पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा आज केंद्र सरकार द्वारा लाए काले कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब कांग्रेस भवन से राजभवन की तरफ रोष मार्च शुरू किया गया पर पुलिस द्वारा बैरिकेडिंग लगाए जाने पर रास्ते में ही शांतमयी तरीके से केंद्र सरकार के खिलाफ रोष धरना दिया गया ताकि मोदी सरकार तक लोगों की आवाज पहुंचाई जा सके। 

इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि केंद्र सरकार का अहंकार देश की संवैधानिक संस्थाओं के लिए चुनौती बना हुआ है और केंद्र सरकार अपने ही लोगों को गुलाम बनाने की नीति पर चल रही है।

जाखड़ ने पंजाब कांग्रेस भवन में कार्यकत्र्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि किसान आंदोलन में किसानों की जो शहादत हो रही है उसके लिए मोदी सरकार जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि पहले मोदी सरकार ने अपनी गलत नीतियों के कारण गलवान घाटी में निहत्थे जवान मरवा दिए थे व अब यह अपने ही किसानों को मरने के लिए मजबूर कर रही है। उन्होंने कहा कि यह किसान ही था जिसने देश को अनाज के मामले में आत्मनिर्भर बनाया था पर आज देश की सरकार किसानों को उजाडऩे पर तुली हुई है। उन्होंने कहा कि किसान आज एक धर्म युद्ध लड़ रहे हैं जिसमें न केवल पंजाब बल्कि देश के सभी प्रदेशों के किसान भाग ले रहे हैं।


जाखड़ ने कहा कि मोदी सरकार देश को किसान मुक्त व आजादी मुक्त करने की तरफ बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का तानाशाही वाला व्यवहार देश के लोगों को गुलाम बनाने वाला है। उन्होंने कहा कि आज केंद्र सरकार को लोगों की आजादी पसंद नहीं आ रही है इसीलिए सरकार के खिलाफ उठने वाली हर आवाज को दबाया जा रहा है। 


उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाए काले कृषी कानून ने केवल पंजाब बल्कि पूरे देश के लिए घातक है। इसका विपरीत असर सिर्फ किसानों पर ही नहीं बल्कि समाज के हर वर्ग पर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी केंद्र सरकार की गलत नीतियों का लोकतांत्रिक तरीके से विरोध जारी रखेगी। उन्होंने कहा कि काले कानून वापस होने तक आंदोलन जारी रहेगा।

इस अवसर पर महारानी परनीत कौर, कैबिनेट मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, साधु सिंह धर्मसोत, विधायक सुनील दत्ती, विधायक हरमिंदर सिंह गिल, युवा कांग्रेस अध्यक्ष बरिन्द्र सिंह ने भी संबोधित किया।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री श्री तृप्त राजेंद्र सिंह बाजवा, सुखजिंदर सिंह रंधावा, सुंदर शाम अरोड़ा, बलबीर सिंह सिद्दू, गुरप्रीत सिंह कांगड़, भारत भूषण आशू, सांसद मोहम्मद सदीक, अमर सिंह, सुशील कुमार रिंकू, संजय तलवार, बलविंदर सिंह धालीवाल, हरदयाल कंबोज, संगत सिंह गिलजिया, राजकुमार चब्बेवाल, राजकुमार वेरका, सुरेंद्र डाबर, इंदु बाला, संतोष चौधरी, गुरकीरत सिंह कोटली, लखबीर सिंह लक्खा, बरिंदर मीत सिंह पहाड़ा, अंगद सैनी, काका लोहागढ़, गुरप्रीत सिंह जीपी, मदन लाल जलालपुर, राजेंद्र बेरी, निर्मल सुतराणा, पवन आदिआ, दवेंद्र घुबाया, ममता दत्ता अध्यक्ष महिला कांग्रेस, अक्षय शर्मा एनएसयूआई, निर्मल खैरा सेवादल भी उपस्थित थे।