+

पंजाब कैबिनेट का खाका तैयार, राहुल-प्रियंका संग सीएम चरणजीत चन्नी का मंथन- 4 घंटे तक चली मीटिंग

चंडीगढ़ (उत्तम हिन्दू न्यूज): पंजाब में मुख्यमंत्री को बदलने के बाद अब कांग्रेस पार्टी में कैबिनेट विस्तार को लेकर मंथन चल रहा है। नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने इसी को लेकर ग
पंजाब कैबिनेट का खाका तैयार, राहुल-प्रियंका संग सीएम चरणजीत चन्नी का मंथन- 4 घंटे तक चली मीटिंग

चंडीगढ़ (उत्तम हिन्दू न्यूज): पंजाब में मुख्यमंत्री को बदलने के बाद अब कांग्रेस पार्टी में कैबिनेट विस्तार को लेकर मंथन चल रहा है। नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने इसी को लेकर गुरुवार देर रात दिल्ली में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी से मुलाकात की है और अब माना जा रहा है कि लंबी चर्चा के बाद कैबिनेट विस्तार पर मुहर लग गई है। 

जानकारी के मुताबिक, राहुल गांधी के आवास पर पंजाब कैबिनेट विस्तार को लेकर देर रात तक 4 घंटे बैठक चली। इस मीटिंग में राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा, अजय माकन, केसी वेणुगोपाल मौजूद रहे, जिन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से चर्चा की। 

punjab congress controversy new cm charanjit singh channi decide cabinet  minister pkj | पंजाब में कैबिनेट विस्तार पर दिल्ली में चर्चा, सीएम चन्नी  सहित सिद्धू भी बैठक में शामिल

करीब चार घंटे चली इस बैठक में मंत्रिमंडल के समीकरण, किसे बाहर किया जाए और किसे शामिल किया जाए समेत हर मसले पर बात हुई और लगभग लिस्ट फाइनल कर ली गई है। अब हर किसी की नज़र इस पर टिकी है कि पंजाब में कैबिनेट विस्तार कब होता है। 

आपको बता दें कि पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले बड़ा बदलाव हुआ है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया, जिसके बाद कांग्रेस ने हर किसी को चौंकाते हुए एक दलित चेहरे यानी चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया।

राहुल-प्रियंका संग पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी का मंथन, कैबिनेट विस्तार  लगभग तय - Punjab chief minister charanjit singh channi meeting rahul Gandhi  priyanka Gandhi cabinet expansion ntc ...

नवजोत सिंह सिद्धू के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद से ही पंजाब में कांग्रेस की सरकार और संगठन आमने-सामने थे। इस बीच कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पद छोड़ दिया, उन्होंने आरोप लगाया कि वह लगातार अपमानित महसूस कर रहे थे। अपना पद त्यागने के बाद अमरिंदर सिंह लगातार नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साध रहे हैं। 

वहीं, अगर चरणजीत सिंह चन्नी की बात करें तो मुख्यमंत्री पद पर आने के बाद उन्होंने गरीब किसानों के बिजली-पानी के बिल माफ करने की बात कही है। इसके अलावा कांग्रेस आलाकमान के 18 प्वाइंट्स को पूरा करने की बात कही है।

शेयर करें
facebook twitter