प्रधानमंत्री आवास योजना की बकाया किश्त नहीं मिलने पर हितग्राहियों को दिक्कतें

बड़वानी (उत्तम हिन्दू न्यूज): मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अपने कच्चे मकानों को तोड़ नए मकान बनाने वाले हितग्राही इस योजना की दूसरी और तीसरी किश्त नहीं मिलने के चलते परेशानियों का सामना कर रहे हैं।

बड़वानी जिले में हजारों हितग्राही ऐसे हैं जिनके अपने घर होने का सपना पूरा हो गया है, लेकिन जिले की दो नगर पालिकाओं बड़वानी और सेंधवा तथा नगर परिषदों अंजड़, पानसेमल, राजपुर और खेतिया में करीब तीन हजार हितग्राहियों को दूसरी तथा तीसरी किश्त नहीं मिलने के चलते वे मौसम की मार झेलने को मजबूर हैं। कुछ हितग्राहियों ने बताया कि उन्होंने अपना मकान निर्माण आरंभ कर किराए के मकान में रहना शुरू कर दिया है जिसका किराया वे भर रहे हैं, लेकिन उनका मकान पूर्ण नहीं हो सका है।

इस संबंध में बड़वानी के नगर पालिका अध्यक्ष लक्ष्मण चौहान ने बताया कि एक अच्छी योजना की आवंटन की राशि प्राप्त नहीं होने के चलते हितग्राहियों को बहुत दिक्कत हो रही है। भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पार्षदों के साथ मिलकर क्षेत्रीय सांसद गजेंद्र पटेल को आवेदन देने के अलावा प्रदेश सरकार को भी पत्र लिखे गए हैं। 

उन्होंने बताया कि बड़वानी में 246 हितग्राहियों को एक लाख रु की द्वितीय किश्त और 741 हितग्राहियों को 50 हजार रु की तृतीय किश्त नहीं मिली है। इसके अलावा सेंधवा में 499 हितग्राहियों को द्वितीय किश्त और 1190 हितग्राहियों की तृतीय किश्त बाकी है। अंजड़ में 659 को द्वितीय और 179 को तृतीय किश्त तथा पानसेमल में 185 हितग्राहियों को तृतीय किश्त मिलना बाकी है। खेतिया और राजपुर में द्वितीय तथा तृतीय किश्त मिल गई है, लेकिन पहली किश्त का आवंटन नहीं आ सका है।

बड़वानी जिला कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा ने बताया कि आवंटन नहीं आने से परेशानी हुई है, लेकिन वे शासन से राशि प्राप्त करने के लिए लागातार प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की कि शीघ्र ही आवंटन प्राप्त हो जाएगा।