राष्ट्रपति ट्रंप ने अमेरिका में अशांति के बीच सेना भेजने की दी चेतावनी

वाशिंगटन (उत्तम हिन्दू न्यूज) : राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका में पुलिस हिरासत में एक अश्वेत व्यक्ति की मौत पर बढ़ती अशांति को खत्म करने के लिए अब सेना भेजने को लेकर चेतावनी दी है।

बीबीसी ने राष्ट्रपति ट्रंप के हवाले से कहा, "प्रदर्शनकारियों को रोकने और अपने निवासियों को बचाने में यदि शहर और राज्य विफल रहते हैं, तो परेशानियों को तुरंत खत्म करने के लिए सेना की तैनाती की जाएगी।"

जॉर्ज फ्लोयड की मौत पर हो रहे विरोध प्रदर्शन पिछले एक सप्ताह में बढ़ गए हैं। अमेरिका में नवंबर में चुनाव होना है। ऐसे में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने मंगलवार को राष्ट्रपति ट्रंप की आलोचना कर उन पर निशाना साधा था।

प्रदर्शनकारियों को इकट्ठा होने की स्वतंत्रता की गारंटी देने वाले अमेरिकी संविधान का हवाला देते हुए डेमोक्रेट पार्टी के नेता ने कहा, "हम किसी राष्ट्रपति को अपनी आवाज बंद नहीं करने देंगे।"

लास वेगास के शेरिफ ने मंगलवार को कहा कि पुलिस द्वारा भीड़ को तितर-बितर करने की कोशिश के दौरान गोली लगने से एक अधिकारी की मौत हो गई।

प्रशासन ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे, जिसमें दर्जनों लोग घायल हुए हैं।