राष्ट्रपति का राष्ट्र के नाम संदेश, कहा-अनुच्छेद 370 हटने से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को बड़ा फायदा

08:24 PM Aug 14, 2019 |

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि जम्मू -कश्मीर और लद्दाख में हाल में किए गए बदलावों से स्थानीय निवासियों को बहुत अधिक लाभ होगा और वे अब समानता को बढ़ावा देने वाले प्रगतिशील कानूनों और प्रावधानों का उपयोग कर सकेंगे। कोंविद ने बुधवार को स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र के नाम संदेश में कहा कि जिस महान पीढ़ी के लोगों ने हमें आजादी दिलाई, उनके लिए स्वाधीनता, केवल राजनीतिक सत्ता को हासिल करने तक सीमित नहीं थी, बल्कि उनका उद्देश्य प्रत्येक व्यक्ति के जीवन और समाज की व्यवस्था को बेहतर बनाना भी था। इस संदर्भ में उन्हें विश्वास है कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए हाल ही में किए गए बदलावों से वहां के निवासी बहुत अधिक लाभान्वित होंगे।


राष्ट्रपति ने कहा कि वहां के निवासी अब उन सभी अधिकारों और सुविधाओं का लाभ उठा पाएंगे जो देश के दूसरे क्षेत्रों में रहने वाले नागरिकों को मिलती हैं। वे भी अब समानता को बढ़ावा देने वाले प्रगतिशील क़ानूनों और प्रावधानों का उपयोग कर सकेंगे। 'शिक्षा का अधिकार' कानून लागू होने से सभी बच्चों के लिए शिक्षा सुनिश्चित की जा सकेगी। 'सूचना का अधिकारÓ मिल जाने से, अब वहां के लोग जनहित से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे; पारंपरिक रूप से वंचित रहे वर्गों के लोगों को शिक्षा व नौकरी में आरक्षण तथा अन्य सुविधाएं मिल सकेंगी। 


राष्ट्रपति ने कहा कि इस साल 2 अक्टूबर को गांधीजी की 150वीं जयंती मनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि गांधीजी का मार्गदर्शन आज भी प्रासंगिक हैं। वह मानते थे कि हमें प्रकृति के संसाधनों का इस्तेमाल विवेक से करना चाहिए। वर्तमान में चल रहे हमारे अनेक प्रयास गांधीजी के विचारों को ही यथार्थ रूप देते हैं। अनेक कल्याणकारी कार्यक्रम गांधीजी के सोच के अनुरुप है। इसके अलावा राष्ट्रपति ने गुरु नानकजी के 550वें प्रकाश पर्व वर्ष पर भी देशवासियों को शुभकामनाएं दीं।