बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल पुड्डुचेरी में मंगलवार के मतदान की तैयारियां पूरी

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुड्डुचेरी में छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं तथा मतदान को लेकर उल्टी गिनती शुरू हो गयी है। इन राज्यों में जिन सीटों पर कल मतदान होगा, वहां चुनाव प्रचार रविवार शाम थम गया था।

बंगाल में तीसरे चरण के लिए 31 विधानसभा सीटों के लिए मतदान होगा। असम में तीसरे और अंतिम चरण के लिए 40 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा। तमिलनाडु की 232, केरल की 140 और केंद्र शासित प्रदेश पुड्डुचेरी की 30 सीटों के लिए भी चुनाव छह अप्रैल को ही होगा। इन तीनों राज्यों में एक ही चरण में मतदान होगा जबकि बंगाल में आठ चरणों में तथा असम में तीसरे और अंतिम चरण का मतदान होगा। बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में तीन जिलों हावड़ा, हुगली और दक्षिण 24 परगना की 31 सीटों पर कुल 205 प्रत्याशी मैदान में हैं। इन सीटों पर मंगलवार की सुबह मतदान शुरू होगा। इस चरण के लिए गत 12 मार्च को अधिसूचना जारी की गयी थी। तीसरे चरण के मतदान में दक्षिण 24 परगना जिले की 16 सीटों, हुगली की आठ तथा हावड़ा की सात सीटें शामिल हैं। बंगाल में पिछले विधानसभा चुनाव में इन 31 सीटों में से 30 पर तृणमूल कांग्रेस जीती थी। सिर्फ आमता सीट पर कांग्रेस की जीत हुई थी, हालांकि इस बार मुकाबला कड़ा है। भारतीय जनता पार्टी, तृणमूल के लिए बड़ी प्रतिद्वंद्वी के तौर पर उभरी है। तीसरे चरण में कुल 78,52,425 मतदाता 10,871 बूथों पर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। तीसरे चरण में केंद्रीय बलों की सबसे ज्यादा तैनाती दक्षिण 24 परगना जिले में की जाएगी जहां की कई विधानसभा सीटें बेहद संवेदनशील मानी गयी हैं। तमिलनाडु में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक के साथ गठबंधन कर भाजपा चुनाव लड़ रही है जबकि प्रमुख विपक्षी द्रमुक के साथ मिलकर कांग्रेस चुनाव लड़ रही है। क्षेत्रीय पार्टियों के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ रहीं राष्ट्रीय पार्टियों के लिए इस राज्य का चुनाव भी प्रतिष्ठा का प्रश्न बना हुआ है।