पीएम मोदी ने रायबरेली में 1,051 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास-लोकार्पण किया 

रायबरेली (उत्तम हिन्दू न्यूज): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में 1,051 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। मोदी ने रायबरेली की मॉर्डन रेल कोच फैक्टरी द्वारा निर्मित 900वें कोच और हमसफर ट्रेन के रैक को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर सेना को कमजोर करने की चाहत रखने वाले लोगों की सहायता करने का आरोप लगाया। मोदी ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर सरकार व यहां तक कि सर्वोच्च न्यायालय पर सवाल उठाने को लेकर कांग्रेस पर हमला बोला।

मोदी ने कहा, आज देश में दो गुट हैं। एक सरकार का, जो हमारी सेना की ताकत बढ़ाने के लिए प्रयासरत है। दूसरा गुट किसी भी कीमत पर हमारी सेना को कमजोर करना चाहता है। उन्होंने जनता से पूछा कि हमारी देश की सेना ताकतवर होनी चाहिए कि नहीं, देश की सेना का समर्थन होनी चाहिए कि नहीं, सेना के हाथ में आधुनिक हथियार होने चाहिए या नहीं।

मोदी ने कहा, हमारे देश की सेना के जवानों को कोई दिक्कत ना हो, जो मां अपना बेटा सीमा पर देश की सुरक्षा के लिए भेजती है, मैं उनके प्रति जवाबदेह हूं। मैं उन बहनों के प्रति जवाबदेह हूं, जो भाइयों को देश की रक्षा के लिए बॉर्डर पर भेजती हैं। जब तक हमारी सरकार है तब तक मैं ऐसे लाखों, करोड़ों परिवारों के प्रति जवाबदेह हूं, किसी एक परिवार के प्रति नहीं। 

उन्होंने कहा, देश साक्षी है कि कांग्रेस उन ताकतों के साथ खड़ी है जो हमारी सेनाओं को मजबूत नहीं होने देना चाहतीं। प्रधानमंत्री ने स्पष्ट तौर पर यह टिप्पणी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के संदर्भ में की। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी फ्रांस के साथ राफेल लड़ाकू विमान सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 'देश इस तरह के लोगों को देख रहा है, जिन्हें भारत के खिलाफ काम कर रहे देशों से समर्थन मिल रहा है।' उन्होंने कहा, क्या कारण है कि जब हमारे कुछ नेता बोलते हैं तो पाकिस्तान के लोग तालियां बजाते हैं। 

प्रधानमंत्री ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर 'रक्षा मंत्रालय की गरिमा, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, वायु सेना, फ्रांस व सर्वोच्च न्यायालय पर सवाल उठाने को लेकर' कांग्रेस पर निशाना साधा। मोदी ने कहा, कुछ लोग सिर्फ झूठ स्वीकार करते हैं और झूठ बोलते हैं। उनके लिए देश का रक्षा मंत्रालय, रक्षा मंत्री, वायु सेना अधिकारी झूठे हैं। फ्रांस सरकार भी झूठी है। अब, देश का सर्वोच्च न्यायालय भी उनके लिए झूठा है।" 

उन्होंने कहा, लेकिन, सच्चाई को श्रृंगार की जरूरत नहीं होती और झूठ हमेशा हारेगा। देश कांग्रेस को सेना के प्रति उसके रवैये को लेकर कभी माफ नहीं करेगा। 

प्रधानमंत्री ने कहा, 'कुछ लोगों' को 'भारत माता की जय' बोलने में शर्मिदगी महसूस होती है। उन्होंने कहा, वे कैसे लोग हैं जो अपने देश की परवाह नहीं करते? मैं जानता हूं कि वे मोदी को अपशब्द कहना चाहते हैं। वे मोदी को भ्रष्टाचार में फंसाना चाहते हैं। लेकिन मैं जानना चाहता हूं कि वे देश के गौरव को दांव पर क्यों लगाना चाहते हैं? राष्ट्र की सुरक्षा को दांव पर क्यों लगाया जा रहा है? 

उन्होंने कहा, मैं यहां कड़े से कड़े फैसले लेने के लिए हूं। हमारे कदम कभी पीछे नहीं हटेंगे। हमारे जवानों की सुरक्षा के प्रति कांग्रेस का रवैया क्या रहा, यह फिर से देश को याद दिलाना चाहता हूं। साल 2009 में भारत की सेना ने 1,86,000 बुलेट प्रूफ जैकेट की मांग की थी लेकिन 2009 से लेकर 2014 तक पांच साल बीत गए लेकिन सेना के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट नहीं खरीदी गई।  

मोदी ने कहा कि केंद्र में हमारी सरकार बनने के बाद 2016 में हमने सेना के लिए 50,000 बुलेट प्रूफ जैकेट उन्हें सुपुर्द की। यह बुलेट प्रूफ जैकेट भारत की ही कंपनी बना रही है। उन्होंने कहा कि 'कांग्रेस के पापों के बारे में बताने के लिए इतना कुछ है कि बोलते-बोलते सप्ताह के सप्ताह निकल जाएंगे।' 

Related Stories: